इस बार पाकिस्तानी नहीं दो अफगानी चढ़े सुरक्षा एजेंसियों के हत्थे

पाकिस्तान से लगते बॉर्डर एरिया के प्रतिबंधित क्षेत्रों में घुसपैठ और अवां​छित गतिविधियों को रोकने लिए एजेंसिया हाई अलर्ट पर रहती है। इसी का नतीजा है बीते कुछ माह में राजस्थान में पाक बॉर्डर से क्षेत्रों में कई पाक व गौर पाक जासूस सुरक्षा एजेंसियों के हत्थे चढ़े हैं।इस बार पाकिस्तानी नहीं दो अफगानी चढ़े सुरक्षा एजेंसियों के हत्थे

‘सर्जिकल स्ट्राइक सिर्फ एक अभियान, पास की इकाइयों को भी न थी जानकारी’

इस बार जैसलमेर में सुरक्षा एजेंसियों ने दो अफगानी नागरिकों को पकड़ा है। ये दोनों प्रतिबंधित क्षेत्र में घूम रहे थे। जानकारी के अनुसार इनके नाम नईम मुलाई व मोहम्मद परवेज है। प्रारंभिक पूछताछ के बाद इन दोनों को स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

जारी है दोनों से पूछताछ

हालांकि दोनों के पास वैध वीजा होने की जानकारी सामने आ रही है। लेकिन प्रतिबंधित क्षेत्र में दोनों के प्रवेश ने सुरक्षा एजेंसियों को सतर्क कर दिया था। गौरतलब है सरहदी इलाकों से लगते गांवों में भी सुरक्षा एजेंसियां समय-समय पर तलाशी अभियान चलाकर जासूसों की तलाश करती है। क्यों​कि इन क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के अधिकत सगे-सबंधी बॉर्डर पार भी रहते हैं। इन्हीं लोगों का उपयोग कर पाक एजेंसियां भारत में जासूसी को अंजाम देती हैं।

 

You May Also Like

English News