इस मैच ने IPL के बेसिल थंपी को दिलाई टीम इंडिया में जगह….

राष्ट्रीय चयनकर्ताओं ने श्रीलंका के खिलाफ आगामी टी20 इंटरनेशनल सीरीज के लिए टीम इंडिया में कई युवाओं को मौका देकर क्रिकेट फैंस को बड़ा सरप्राइज दिया है। इनमें से एक बड़ा गिफ्ट केरल के तेज गेंदबाज बेसिल थंपी भी हैं। थंपी तब चर्चाओं में आए, जब उन्होंने पिछले साल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया। इसके बाद जल्द ही उन्हें आईपीएल में गुजरात लायंस की तरफ से खेलने का मौका मिला, जहां उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करके अपनी छाप छोड़ी। इस मैच ने IPL के बेसिल थंपी को दिलाई टीम इंडिया में जगह....

अभी-अभी: दिल्ली को लगा बड़ा झटका, छिन सकती है IPL 2018 के मुकाबलों की मेजबानी

हाल ही में पीटीआई से बातचीत में थंपी ने खुलासा किया था कि उन्हें टीम इंडिया में मौका मिलने की उम्मीद नहीं थी। उनका मानना है कि टीम इंडिया में मौका मिलना शानदार अवसर है और उनका सपना सच होने के बेहद करीब है। उन्होंने यह भी कहा कि पिछले एक या डेढ़ सालों में बतौर गेंदबाज उनके अंदर काफी सुधार आया है।

 

बेसिल थंपी ने कहा, ‘टीम इंडिया में सिलेक्शन की मुझे बहुत खुशी है और काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। मुझे इसकी जानकारी केसीए सचिव जयेश जॉर्ज से मिली थी। यह बड़ा पल क्योंकि मेरा हमेशा से सपना रहा है कि देश का प्रतिनिधित्व करूं। पिछले एक वर्ष में बतौर गेंदबाज मेरा विश्वास काफी बढ़ा है और उम्मीद करता हूं कि श्रीलंका के खिलाफ मौके को भुना सकूं।’
 

थंपी ने अपनी गेंदबाजी सुधारने के लिए एमआरएफ पेस एकेडमी में काफी समय बिताया। एकेडमी के चीफ ऑपरेटर ग्लेन मैक्ग्रा का उनके करियर पर काफी प्रभाव रहा है। थंपी बताते हैं कि मैक्ग्रा ने उनका काफी विश्वास बढ़ाया और उनके सभी प्रयास काम कर रहे हैं। थंपी ने कहा, ‘मैक्ग्रा ने मुझे सलाह दी कि गेंदबाजी करते समय कभी गति नहीं कम होने देना है। मैंने यह बात ध्यान रखी। मैंने उनसे काफी बातचीत की और बहुत कुछ सीखा।’ थंपी मानते हैं कि आईपीएल उनके करियर का टर्निंग पॉइंट रहा। रोहित शर्माऔर किरोन पोलार्ड जैसे दिग्गज बल्लेबाजों को गेंदबाजी करने से उन्हें काफी विश्वास मिला।
 

थंपी का सपना है कि वो जब गेंदबाजी करें तो एमएस धोनीको विकेटकीपिंग करते देखना चाहते हैं। अब श्रीलंका के खिलाफ उनका यह सपना सच हो सकता है। थंपी ने कहा, ‘आईपीएल मेरे करियर का टर्निंग पॉइंट रहा। मुंबई इंडियन्सके खिलाफ मुकाबले में मैंने करीब 10 गेंदे यॉर्क लेंथ पर डाली। इससे मुझ पर ध्यान दिया गया। मैं चाहता हूं कि जब गेंदबाजी करूं तो एमएस धोनी विकेटकीपिंग करें। यह लंबे समय का सपना है, जो सच होने के करीब है।’

You May Also Like

English News