इस यादगार मैच में इंग्लिश क्रिकेटर ने कैफ को कहा था बस ड्राइवर

भारत के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने बुधवार को दावा किया कि 2002 नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल में इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने एक बार उन्हें बस ड्राइवर कहा था. ट्विटर पर एक फैंस के सवाल का जवाब देते हुए कैफ ने ये बात कही है.इस यादगार मैच में इंग्लिश क्रिकेटर ने कैफ को कहा था बस ड्राइवर

कैफ अपने ट्विटर अकाउंट पर ‘सवाल और जवाब’ का सेशन कर रहे थे, उनसे जब एक फैन ने पूछा कि नासिर हुसैन की अगुवाई वाली इंग्लैंड ने अहम मैच में 87 रन की नाबाद पारी के दौरान उनके खिलाफ छींटाकशी की गई थी. सवाल का जवाब देते हुए कैफ ने लिखा, ‘हां, नासिर हुसैन ने मुझे सचमुच बस ड्राइवर कहा था.’ 

मैच में किया शानदार प्रदर्शन

इग्लैंड के 326 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के 5 दिग्गज (गांगुली, सहवाग, द्रविड़, तेंदुलकर और मोंगिया) महज 146 रन पर पवेलियन लौट गए. फिर लगने लगा कि टीम के बाकी बल्लेबाज भी आसानी से घुटने टेक देंगे. लेकिन टीम इंडिया के दो होनहार, मोहम्मद कैफ और युवराज सिंह के इरादे कुछ और ही थे. दोनों ने मिलकर अंग्रेज गेंदबाजों की बखिया उधेड़ते हुए टीम इंडिया को जीत दिला दी.

युवी ने आउट होने से पहले 69 रनों की शानदार पारी खेली. इस जीत के हीरो मोहम्मद कैफ को करियर में पहली बार ‘मैन ऑफ द मैच’ के खिताब से नवाजा गया. कैफ ने युवराज सिंह (69) के साथ मिलकर 121 रन की विजेता साझेदारी निभायी थी. 

सौरव ने उतारी थी टी-शर्ट

सौरव गांगुली ने 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ नेटवेस्‍ट ट्रॉफी के फाइनल में जीत का अनोखा जश्न मनाया. ट्राई सीरिज के फाइनल के दौरान लार्ड्स ग्राउंड की बालकनी में जश्‍न के अंदाज में अपनी शर्ट उतारकर लहराई थी. यह क्रिकेट इतिहास की ऐतिहासिक घटना थी.

बता दें कि मोहम्मद कैफ ने भारत की ओर से 125 वनडे मैचों में 2753 रन बनाए हैं, जिनमें 2 शतक और एक अर्धशतक शामिल है. कैफ साल 2002 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट खेलकर अपने क्रिकेट करियर का आगाज किया था और वो 2006 तक भारतीय टीम का हिस्सा रहे.

You May Also Like

English News