इस व्यापारी ने निकली एक नई तकनीक, जमीन के नीचे टैंक बनाकर हैंडपंप से निकलता है शराब

शराब माफिया शराब की बिक्री के लिए नए-नए तरीके निकालते रहते है। शराब रखने के लिए शराब माफिया भी नित नई तकनीक  निकाल रहे हैं। उरई की शहर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम चौरसी के कबूतरा डेरा में आबकारी विभाग की टीम व पुलिस ने छापेमारी कर 600 लीटर कच्ची शराब बरामद की। शराब बना रहे लोग पुलिस पर पथराव कर भाग निकले। हालांकि कोई पुलिस कर्मी घायल नहीं हुआ। इस व्यापारी ने निकली एक नई तकनीक, जमीन के नीचे टैंक बनाकर हैंडपंप से निकलता है शराबइस देश में हुआ दुनिया का सबसे बड़ा डॉग शो, आप भी इनके जलवे देख बोलेंगे Wow……

वहीं यह शराब जमीन के अंदर एक टैंक में भरी हुई थी, जिसे हैंडपंप के जरिए जमीन से निकाला जाता था। इस नई तकनीक को देखकर आबकारी टीम व पुलिस आश्चर्य चकित हो गई। ऐसी एक तकनीक शनिवार को चौरसी गांव के कबूतरा डेरा पर देखने को मिली। दरअसल आबकारी विभाग की टीम व कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर कबूतरा डेरा पर छापेमारी की थी। पुलिस के पहुंचते ही वहां हड़कंप मच गया। डेरे पर शराब बना रहे लोगों ने टीम के पहुंचते ही पथराव शुरू कर दिया। 

टीम जैसी ही बचने के लिए आड़ में छिपी तो वहां मौजूद लोग भाग निकले। इसके बाद जब टीम ने शराब की खेप बरामद करने के लिए छानबीन की तो ऐसी नई तकनीक हाथ लगी, जिसे देखकर उनके होश उड़ गए। उस स्थान पर एक हैंडपंप लगा था। इसकी पाइप लाइन जमीन में बने टैंक में गई थी, जिसमें कच्ची शराब भरी हुई थी। दरअसल कोई शराब न पकड़ पाए इसलिए कबूतरा डेरे के लोगों ने यह नया तरीका निकाला था। हैंडपंप चलाकर शराब निकाल कर बेच देते थे। वह अपना पूरा स्टाक उसी टैंक में रखते थे। यह नया तरीका देखकर टीम आश्चर्य में पड़ गई। टीम ने हैंडपंप व बरामद हुई करीब 600 लीटर शराब बरामद कर ली।

You May Also Like

English News