इस U-19 क्रिकेटर ने दोहराया संदीप पाटिल का 36 साल पुराना जादू

इंडिया अंडर-19 टीम के बल्लेबाज पवन शाह दोहरा शतक (282 रन) जमाकर यूथ टेस्ट में उच्चतम स्कोर बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए. ऑस्ट्रेलिया के क्लिंटन पीके (नाबाद 304 रन) के बाद यूथ टेस्ट की यह दूसरी सर्वोच्च पारी है.इंडिया अंडर-19 टीम के बल्लेबाज पवन शाह दोहरा शतक (282 रन) जमाकर यूथ टेस्ट में उच्चतम स्कोर बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए. ऑस्ट्रेलिया के क्लिंटन पीके (नाबाद 304 रन) के बाद यूथ टेस्ट की यह दूसरी सर्वोच्च पारी है.  श्रीलंका अंडर-19 टीम के खिलाफ हम्बनटोटा में खेले जा रहे यूथ टेस्ट के दूसरे दिन तिहरे शतक की ओर बढ़ रहे पवन शाह 282 रन बनाकर रन आउट हुए, उन्होंने 332 गेंदों की पारी में 33 चौके और एक छक्का जमाया.     जो सचिन-विराट नहीं कर पाए, वो अंडर-19 के इस बल्लेबाज ने कर दिखाया  पवन शाह की इस डबल सेंचुरी की खासियत यह रही कि उन्होंने न सिर्फ चौका लगाकर अपना दोहरा शतक पूरा किया, बल्कि तेज गेंदबाज केकेवी परेरा के उस ओवर में लगातार छह चौके जमाने का भी कारनामा किया.     पवन शाह ने एक ओवर में छह चौके जमाकर भारत के पूर्व आक्रामक बल्लेबाज संदीप पाटिल की याद दिला दी, जब उन्होंने 36 साल पहले एक ओवर में छह चौके लगाकर इतिहास रचा था.  इंग्लैंड के खिलाफ 1982 के मैनचेस्टर टेस्ट में 129 रनों की नाबाद पारी के दौरान संदीप पाटिल ने तेज गेंदबाज बॉब विलिस के एक ओवर में छह चौके जड़ दिए थे. इसके बाद टेस्ट क्रिकेट में तीन और बल्लेबाजों ने इस रिकॉर्ड को दोहराया, जिनमें क्रिस गेल (2004), रामनरेश सरवन (2006) और सनथ जयसूर्या (2007) शामिल हैं. उधर, वनडे इंटरनेशनल में तिलकरत्ने दिलशान (2015 वर्ल्ड कप) और आईपीएल-2012 में अजिंक्य रहाणे यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.

श्रीलंका अंडर-19 टीम के खिलाफ हम्बनटोटा में खेले जा रहे यूथ टेस्ट के दूसरे दिन तिहरे शतक की ओर बढ़ रहे पवन शाह 282 रन बनाकर रन आउट हुए, उन्होंने 332 गेंदों की पारी में 33 चौके और एक छक्का जमाया.

पवन शाह की इस डबल सेंचुरी की खासियत यह रही कि उन्होंने न सिर्फ चौका लगाकर अपना दोहरा शतक पूरा किया, बल्कि तेज गेंदबाज केकेवी परेरा के उस ओवर में लगातार छह चौके जमाने का भी कारनामा किया.

पवन शाह ने एक ओवर में छह चौके जमाकर भारत के पूर्व आक्रामक बल्लेबाज संदीप पाटिल की याद दिला दी, जब उन्होंने 36 साल पहले एक ओवर में छह चौके लगाकर इतिहास रचा था.

इंग्लैंड के खिलाफ 1982 के मैनचेस्टर टेस्ट में 129 रनों की नाबाद पारी के दौरान संदीप पाटिल ने तेज गेंदबाज बॉब विलिस के एक ओवर में छह चौके जड़ दिए थे. इसके बाद टेस्ट क्रिकेट में तीन और बल्लेबाजों ने इस रिकॉर्ड को दोहराया, जिनमें क्रिस गेल (2004), रामनरेश सरवन (2006) और सनथ जयसूर्या (2007) शामिल हैं. उधर, वनडे इंटरनेशनल में तिलकरत्ने दिलशान (2015 वर्ल्ड कप) और आईपीएल-2012 में अजिंक्य रहाणे यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.

You May Also Like

English News