ई-रिक्शा चालक की हत्या पर नायडू बोले की, स्वच्छ भारत को कर रहा था प्रमोट

केंद्र सरकार लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में स्वच्छ भारत को बढ़ावा देने के लिए जागरुकता फैला रही है. लेकिन रविवार रात दिल्ली में जीटीबी नगर इलाके में मेट्रो स्टेशन के बाहर पेशाब करने से रोकने पर एक ई-रिक्शा चालक की कुछ लोगों ने मिल कर हत्या कर दी. केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने इस घटना की कड़ी निंदा की है. नायडू ने ट्वीट किया कि स्वच्छ भारत को प्रमोट करने वाले ई-रिक्शा करने वाले की हत्या होने से काफी दुख पहुंचा है, मैंने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर से बात की है और सख्त कार्रवाई करने को कहा है. ई-रिक्शा चालक की हत्या पर नायडू बोले की, स्वच्छ भारत को कर रहा था प्रमोटयह ही पढ़े: अभी-अभी: भारतीय क्रिकेटर के घर में हुई मौत, शोक में डूबा पूरा खेल जगत….

दरअसल वारदात की शुरुआत दोपहर करीब 2 बजे पेशाब करने को लेकर हुई उस वक़्त हुई जब एक ई-रिक्शा चालक ने दो लोगों को स्टेशन के बहार खुले में पेशाब करने से रोकने की कोशिश की, इसके बाद आरोपी देख लेने की धमकी देकर चले गए.

रात के करीब 8 बजे दबारा 15 से 20 लोग एक साथ आते हैं और और रिक्शा चालक को पीटने लगते हैं. जिससे ई रिक्शा चालक की मौत हो जाती है. चश्मदीदों की माने तो 15 से 20 लोग मिलकर रविंद्र नाम के ई रिक्शा चालक को पीट रहे थे लेकिन कोई बचाने नहीं आया. चश्मदीदों के मुताबिक आरोपी तौलिये या गमछे में ईंट बांध कर उससे मार रहे थे हम बचाने गए तो हमें भी चोट आई. काफी भीड़भाड़ वाले इस चौराहे पर आरोपी पीटते रहे लेकिन उसे बचाने की हिम्मत नहीं जुटा आया, हादसे के बाद उसके साथी उसे अस्पताल लगाये जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

जांच में जुटी पुलिस
वारदात को अंजाम देने के फौरन बाद सभी हमलावर मौके से फरार हो गए. जिस जगह इस वारदात को अंजाम दिया गया, वहां सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं, लेकिन वो खराब बताए जा रहे हैं. लिहाजा पुलिस आसपास के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है ताकि हमलावरों की पहचान हो सके. पुलिस ने रवींद्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मुखर्जी नगर थाने में हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है.

You May Also Like

English News