उज्जैन में हार्दिक पटेल पर फेंकी गई स्याही, आरोपी बोला- MP में नहीं घुसने देंगे

गुजरात के युवा नेता हार्दिक पटेल पर मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्याही फेंके जाने का मामला सामने आया है. शनिवार को उज्जैन में एक व्यक्ति ने पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पर स्याही फेंक दी.

ये घटना उज्जैन में इंदौर रोड स्थित मेघदूत होटल पर घटी, जहां करीब 9 बजकर 15 मिनट पर उनके स्वागत के दौरान स्याही फेंकी गई. स्याही फेंकने वाले व्यक्ति का नाम मिलिंद गुर्जर बताया जा रहा है.

हार्दिक पटेल ने घटना के बाद ट्वीट कर कहा, ‘मुझ पर स्याही फेंक कर भाजपा कार्यकर्ताओं ने उज्जैन में मेरा स्वागत किया. स्याही फेंकने वालों को हमने माफ किया, लड़ाई हमारी जारी है. गोलियों से नहीं डरता तो स्याही से कैसे डरूंगा. मेरे साथ Y सिक्योरिटी चलती है, मेरे जैसा व्यक्ति अगर सलामत नहीं है तो आम जनता का क्या होता होगा.’

जानकारी के मुताबिक, स्याही फेंकने वाला मिलिंद तेज तेज चिल्ला रहा था कि हार्दिक पटेल को मध्य प्रदेश में प्रवेश करने नहीं देंगे. घटना इतनी तेजी से घटी कि हार्दिक को संभलने का मौका तक नहीं मिला और स्याही उनके अलावा आस-पास खड़े लोगों पर भी गिरी.

बताया जा रहा है कि स्याही फेंके जाने के बाद वहां मौजूद लोगों ने मिलिंद को पकड़ लिया और उसकी जमकर पिटाई की. हालांकि, सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया और थाने ले गई. 

बता दें कि हार्दिक पटेल मध्य प्रदेश के सागर जिले में होने वाले किसान सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए वहां पहुंचे हैं. इस सम्मेलन में उनके अलावा गुजरात के कांग्रेस विधायक एवं ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर और गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी भी शामिल होंगे.

यह पहली बार नहीं है जब हार्दिक पर स्याही फेंकी गई हो. गौर हो कि मार्च 2017 में सरदार पटेल की कर्मभूमि करमसद में उन पर स्याही फेंकी गई थी. हालांकि, इन दौरान वो कार के अंदर बैठे थे और कार का कांच बंद हो जाने के कारण फेंकी गई स्याही कार की खिड़की पर ही गिर गई. इस दौरान उन्हें काले झंडे भी दिखाए गए थे.

You May Also Like

English News