उड़ीसा: मां-बेटे ने एक साथ पास की 10वीं क्लास की बोर्ड परीक्षा, ग्रेड भी मिले एक जैसे

उड़ीसा एजुकेशन बोर्ड ने 7 मई को 10वीं क्लास के रिजल्ट घोषित किए थे. उड़ीसा के 10वीं क्लास के रिजल्ट में मां-बेटे के एक जैसी ही ग्रेड में पास होने की कहानी सामने आई है. एक साथ 10वीं क्लास में पास होने वाले मां-बेटे उड़ीसा के लक्ष्मणनाथ गांव के रहने वाले वाले हैं.उड़ीसा एजुकेशन बोर्ड ने 7 मई को 10वीं क्लास के रिजल्ट घोषित किए थे. उड़ीसा के 10वीं क्लास के रिजल्ट में मां-बेटे के एक जैसी ही ग्रेड में पास होने की कहानी सामने आई है. एक साथ 10वीं क्लास में पास होने वाले मां-बेटे उड़ीसा के लक्ष्मणनाथ गांव के रहने वाले वाले हैं.   लक्ष्मणनाथ गांव की रहने वाली तपाई ने ओपन स्कूलिंग सिस्टम के जरिए 10वीं क्लास के बोर्ड एग्जाम्स के लिए अप्लाई किया था. तपाई ने बागपूंजी ओपन स्कूल सेंटर से पढ़ाई करते हुए 10वीं क्लास में B2 ग्रेड हासिल किया. वहीं बिकास कुमार ने रेगुलर पढ़ाई करते हुए 10वीं क्लास के एग्जाम में B2 ग्रेड हासिल किया है.   तपाई ने 19 साल बाद 10वीं क्लास पास की है. उन्होंने 10वीं क्लास पास करने के बाद कहा, ''मैं 1999 में एग्जाम पास करने में कामयाब नहीं हो पाई थी. अगले साल मेरे माता-पिता ने मेरी शादी कर दी. शादी के बाद भी मैं एग्जाम देना चाह रही थी, लेकिन घर के हालात की वजह से मैं ऐसा नहीं कर पाई. पर इस साल मैंने अपने बेटे के साथ एग्जाम देने का फैसला किया और मुझे खुशी है कि हम दोनों साथ ही पास होने में कामयाब हुए. तपाई के बेटे ने लक्ष्मणनाथ के सीमांता हाई स्कूल से 10वीं क्लास की पढ़ाई की.

लक्ष्मणनाथ गांव की रहने वाली तपाई ने ओपन स्कूलिंग सिस्टम के जरिए 10वीं क्लास के बोर्ड एग्जाम्स के लिए अप्लाई किया था. तपाई ने बागपूंजी ओपन स्कूल सेंटर से पढ़ाई करते हुए 10वीं क्लास में B2 ग्रेड हासिल किया. वहीं बिकास कुमार ने रेगुलर पढ़ाई करते हुए 10वीं क्लास के एग्जाम में B2 ग्रेड हासिल किया है.

तपाई ने 19 साल बाद 10वीं क्लास पास की है. उन्होंने 10वीं क्लास पास करने के बाद कहा, ”मैं 1999 में एग्जाम पास करने में कामयाब नहीं हो पाई थी. अगले साल मेरे माता-पिता ने मेरी शादी कर दी. शादी के बाद भी मैं एग्जाम देना चाह रही थी, लेकिन घर के हालात की वजह से मैं ऐसा नहीं कर पाई. पर इस साल मैंने अपने बेटे के साथ एग्जाम देने का फैसला किया और मुझे खुशी है कि हम दोनों साथ ही पास होने में कामयाब हुए. तपाई के बेटे ने लक्ष्मणनाथ के सीमांता हाई स्कूल से 10वीं क्लास की पढ़ाई की.

You May Also Like

English News