उत्तराखंड में मैदानों के साथ तप रहे पहाड़, फिलहाल राहत की उम्मीद नहीं

उत्तराखंड के मैदान गर्म हवा के थपेड़ों और पहाड़ पारे के उछाल से बेचैन हैं। मौसम विभाग के अनुसार इन दिनों तापमान सामान्य से छह डिग्री सेल्सियस ज्यादा है। हालांकि पहाड़ी इलाकों में कहीं-कहीं अंधड़ और बारिश के समाचार हैं, लेकिन इससे मामूली राहत ही मिल पा रही है। फिलहाल मैदानी क्षेत्रों में लू के थपेड़ जारी रहेंगे।

दून के तापमान में भले ही मामूली गिरावट आई हो, लेकिन गर्मी और उमस से लोग परेशान रहे। दिन चढ़ने के साथ सूरज की तपिश झुलसाने वाली है। इससे बचने के लिए लोग हाथों और मुंह को कपड़े से ढककर बाहर निकल रहे हैं। 

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार फिलहाल आने वाले दिनों में भी मौसम के तेवर तल्ख ही रहेंगे। उन्होंने बताया कि पूर्वी हवाओं में नमी की कमी के कारण यह नौबत आ रही है। इसकी मुख्य वजह बंगाल की खाड़ी में बनने वाले कम दबाव के क्षेत्र के साथ ही अरब सागर में बन रहे चक्रवात भी हैं। 

बिक्रम सिंह ने बताया कि 28 मई से हालात बदलने शुरू होंगे। इस बीच हरिद्वार, रुड़की और ऊधमसिंह नगर में पारे की उछाल जारी है। इन स्थानों पर अधिकतम तापमान 40 से 41 डिग्री सेल्सियस के बीच है। दोपहर में लू के थपेड़ों से आम जनजीवन प्रभावित है। 

वहीं पहाड़ी इलाकों में रुद्रप्रयाग सबसे गर्म रहा। यहां अधिकतम तापमान 38 डिग्री सिल्सियस रिकार्ड किया गया। जबकि पौड़ी, उत्तरकाशी और गोपेश्वर में यह 31 से 34 डिग्री के बीच रहा। कुमाऊं में धूल भरी तेज हवाएं चलीं। रानीखेत, अल्मोड़ा, बागेश्वर में हल्की बूंदाबांदी के अलावा चम्पावत व पिथौरागढ़ में आसमान बादलों से घिर गया। इससे तापमान में कुछ गिरावट आई। 

प्रमुख शहरों के तापमान

शहर————-अधि———–न्यूनतम

रुड़की————40.2————21.8

देहरादून———-39.9————21.6

हरिद्वार———-42.2————24.0

रुद्रप्रयाग———-38.0———–20.5

गोपेश्वर————32.1———-18.5

गंगोत्री————–13.2———–03.1

केदारनाथ———–11.0———-00

बदरीनाथ————08.0———03.0

यमुनोत्री————-11.0———02.0

You May Also Like

English News