उत्तर प्रदेश CM योगी आदित्य नाथ का सामान्य वर्ग के लिए अबतक का सबसे बड़ा ऐलान, कहा…

देश में पहला नाम मोदी और दूसरा नाम योगी का लिया जाने लगा है इन दोनों ने अपने औधों का सही प्रयोग किया है हमारे देश का प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री दोनों ऐसे ही होने चाहिए. फिलहाल हम आपको बताने जा रहे उस बड़ी खबर की जिसने पूरे यूपी में हलचल मचा रखी है दरअसल आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार अपना पहला बजट पेश कर रही है और उनके इस बजट से जनता को काफी उम्मीदें है.आपकी जानकारी के लिए बता दें इस बीच योगी सरकार ने सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी सुनाई है. दरअसल यूपी सरकार सामान्य वर्ग के उन विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप देगी जिनकी साल की आय 2 लाख रुपए से कम होगी. कहने का भाव ये है कि पहले सभी बच्चो को स्कॉलरशिप दी जाएगी और फिर बाद में बची हुई राशि से उनकी फीस भरी जाएगी.

साल 2016-17 में दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना में सामान्य वर्ग के 8 लाख 22 हजार छात्रों ने स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई किया था लेकिन यूपी सरकार के बजट में कमी की वजह से 2 लाख 42 हजार छात्र इसका फायदा नही उठा पाए थे. अभी तक स्कॉलरशिप और फीस के लिए एक ही लिस्ट बनाई जाती थी लेकिन CM योगी आदित्यनाथ सभी छात्रों को इस योजना के अंतर्गत कुछ न कुछ रकम देने का फैसला और उन्होंने इसके लिए अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए हैं.इसलिए इस बार छात्रों को दी जाने वाली स्कॉलरशिपऔर उनकी फीस को अलग-अलग रखा गया है। जिसके बाद समाज कल्याण विभाग ने स्कॉलरशिप और फीस की अलग-अलग सूची तैयार करने जा रहा है. समाज कल्याण विभाग ने फैसला किया है कि पहले सभी छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाएगी, उसके बाद फीस भरपाई की सूची पर तैयार होगी.

समाज कल्याण निदेशालय के एक सूत्र ने इस जानकारी की पुष्टि करते हुए बताया कि जल्द ही यह पूरा प्रस्ताव शासन को भेजा जाएगा. हालांकि ये पूरा प्रस्ताव शासन के ही निर्देशों पर तैयार हुआ है, इसलिए इसकी मंजूरी मिलना लगभग तय माना जा रहा है.

आपको बता दें कि दशमोत्तर स्कॉलरशिपएवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजना में सामान्य वर्ग के हाईस्कूल से ऊपर के छात्रों को 4 हजार रुपए से लेकर 12 हजार रुपये तक स्कॉलरशिप दी जाती है. इसका मतलब साफ है कि यूपी सरकार के इस फैसले से हर छात्र को 4 हजार से लेकर 12 हजार रुपए स्कॉलरशिप की रकम मिल जाएगी.

You May Also Like

English News