उन्नाव में ग्लू प्लेट ढीली होने से गरीब रथ एक्सप्रेस पलटते-पलटते बची

कानपुर से चलकर लखनऊ जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस मगरवारा रेलवे स्टेशन के होम सिग्नल के पास पलटते बची। डाउन ट्रैक के ज्वाइंट ग्लू प्लेट में फ्रेक्चर था। ट्रेन के पहियों में जर्क महसूस होने पर लोको पायलट ने स्पीड धीमी की। घटना का पता लगते ही पीछे की ट्रेनों को सहजनी व गंगाघाट स्टेशन के मध्य रोक दिया गया। ग्लू प्लेट को बदलने का कार्य रेल पथ विभाग ने आनन-फानन शुरू किया। कानपुर और लखनऊ के
मध्य ट्रेनों का परिचालन कॉशन पर हुआ।कानपुर से चलकर लखनऊ जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस मगरवारा रेलवे स्टेशन के होम सिग्नल के पास पलटते बची। डाउन ट्रैक के ज्वाइंट ग्लू प्लेट में फ्रेक्चर था। ट्रेन के पहियों में जर्क महसूस होने पर लोको पायलट ने स्पीड धीमी की। घटना का पता लगते ही पीछे की ट्रेनों को सहजनी व गंगाघाट स्टेशन के मध्य रोक दिया गया। ग्लू प्लेट को बदलने का कार्य रेल पथ विभाग ने आनन-फानन शुरू किया। कानपुर और लखनऊ के मध्य ट्रेनों का परिचालन कॉशन पर हुआ।  मगरवारा रेलवे स्टेशन पर घटना सुबह करीब 8 बजे की है। लखनऊ की ओर जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस जैसे ही स्टेशन के होम सिग्नल पर पहुंची, लोको पायलट ने पहियों में जर्क महसूस किया। खतरा महसूस होते ही उसने ट्रेन की रफ्तार धीमी कर दी। मगरवारा स्टेशन मास्टर को घटना की जानकारी गार्ड ने दी। इसके बाद पीछे से आ रही पुष्पक, फरक्का, चित्रकूट एक्सप्रेस सहित चार मालगाड़ियों को गंगाघाट के पास रोक कर कॉशन दिया गया।  घटना का पता लगने के दो घंटे बाद पहुंचे सेक्शन इंजीनियर ने ग्लू प्लेट जांची। प्लेट के निचले हिस्से में दरार मिली। यह देख इंजीनियर के होश उड़ गए। रेल पथ विभाग के अनुसार किमी. 60/36 के डाउन होम सिग्नल पर प्लेट क्षतिग्रस्त मिली है। जिसे दुरुस्त कराने का कार्य किया जा रहा है। रेल यातायात प्रभावित न हो इसके लिए ट्रेनें धीरे-धीरे मगरवारा से उन्नाव की ओर पास कराई जा रही हैं।

मगरवारा रेलवे स्टेशन पर घटना सुबह करीब 8 बजे की है। लखनऊ की ओर जा रही गरीब रथ एक्सप्रेस जैसे ही स्टेशन के होम सिग्नल पर पहुंची, लोको पायलट ने पहियों में जर्क महसूस किया। खतरा महसूस होते ही उसने ट्रेन की रफ्तार धीमी कर दी। मगरवारा स्टेशन मास्टर को घटना की जानकारी गार्ड ने दी। इसके बाद पीछे से आ रही पुष्पक, फरक्का, चित्रकूट एक्सप्रेस सहित चार मालगाड़ियों को गंगाघाट के पास रोक कर कॉशन दिया गया।

घटना का पता लगने के दो घंटे बाद पहुंचे सेक्शन इंजीनियर ने ग्लू प्लेट जांची। प्लेट के निचले हिस्से में दरार मिली। यह देख इंजीनियर के होश उड़ गए। रेल पथ विभाग के अनुसार किमी. 60/36 के डाउन होम सिग्नल पर प्लेट क्षतिग्रस्त मिली है। जिसे दुरुस्त कराने का कार्य किया जा रहा है। रेल यातायात प्रभावित न हो इसके लिए ट्रेनें धीरे-धीरे मगरवारा से उन्नाव की ओर पास कराई जा रही हैं।

You May Also Like

English News