उपचुनावः फूलपुर सीट को जिताने के लिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसे सौंपी जिम्मेदारी

फूलपुर संसदीय सीट के उप चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने खास तैयारी की है। इस बाबत अखिलेश यातव ने वाराणसी की टीम को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है।उपचुनावः फूलपुर सीट को जिताने के लिए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसे सौंपी जिम्मेदारीफूलपुर लोकसभा के तहत आने वाली फूलपुर विधानसभा सीट का दारोमदार वाराणसी की जिला और महानगर टीम पर है।  सपा ने फूलपुर संसदीय सीट से नागेंद्र पटेल को उम्मीदवार बनाया है।

फूलपुर विधानसभा में वाराणसी और भदोही जिले के  नेताओं की ड्यूटी लगाई गई है। पूरी टीम को चुनाव प्रबंधन में लगाया गया है। दोनों जिलों के जिलाध्यक्ष, महानगर अध्यक्ष एक साथ टीम बनाकर काम कर रहे हैं।

उपचुनाव होने तक जिले के करीब 50 से अधिक पदाधिकारियों को फूलपुर में ही कैंप करने का निर्देश दिया गया है। आजमगढ़ निवासी पूर्व मंत्री बलराम यादव को उपचुनाव का प्रभारी बनाया गया है। 

जातिगत समीकरण पर है नजर

फूलपुर संसदीय सीट के उप चुनाव में जातिगत समीकरण के आधार पर भी अलग-अलग क्षेत्रों में नेताओं की ड्यूटी लगाई गई है। मुस्लिम इलाकों में अशफाक अहमद डब्लू, इस्तकबाल कुरैशी एवं अन्य कुर्मी बाहुल इलाकों में पूर्व मंत्री सुरेंद्र पटेल, महेंद्र पटेल, जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव, राजकुमार जायसवाल को जिम्मेदारी दी गई है।

हर सेक्टर में अलग-अलग लोगों को प्रभारी बनाया गया है। बसपा के समर्थन देने के एलान से समीकरण तेजी से बदलने के उम्मीद है। यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही बसपा नेता भी सपा प्रत्याशी के  लिए चुनाव प्रचार करेंगे।

जिलाध्यक्ष डॉ. पीयूष यादव ने बताया कि फूलपुर विधानसभा सीट की जिम्मेदारी वाराणसी टीम को मिली है। बूथ स्तर तक प्रबंधन का काम किया जा रहा है। फूलपुर संसदीय क्षेत्र में करीब तीन लाख पटेल वोटर हैं जो निर्णायक बताए जा रहे हैं। 

You May Also Like

English News