एक्सट्रा मैरीटियल अफेयर ने बनाया दिया पत्नी को कीलर, पति को मार शव टैंक में डाला

लखनऊ : इश्क का भूत सिर पर अगर सवार हो जाए तो अच्छे खास इंसान को अपराधी बना देता है। ऐसा ही कुछ हुआ मडिय़ांव के हरिओमनगर में रहने वाली शादीशुदा मधु अस्थाना के साथ। उसका अपने पति के ही मौसेरे भाई से प्यार हो गया। प्यार अवैध संबंध में तबदील हो गया और जब एक दिन पति ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देखा तो मधु ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या कर शव को घर में ही बने सैफ्टी टैंक में डाल दिया। चार माह तक पति का शव टैंक में पड़ा रहा और किसी को कुछ नहीं पता चला। मधु के पति के मामा को कुछ शक हुआ तो उन्होंने इस बात की शिकायत पुलिस से की। इसके बाद पूरे घटनाक्रम का खुलासा हुआ और पुलिस ने आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया।



एसपी टीजी दुर्गेश कुमार ने बताया कि बलरामपुर जनपद निवासी 29 वर्षीय शिव उर्फ शैलू की शादी वर्ष 2013 में नाका निवासी मधु अस्थाना से हुई थी। शिव मडिय़ांव के हरिओमनगर इलाके में अपनी पत्नी के साथ रहता था और प्राइवेट नौकरी करता था। बताया जाता है कि अक्टूबर माह में शिव अचानक लापता हो गया। नवम्बर माह में शिव की पत्नी मधु ने शिव के चाचा जनकराम बताया कि करवाचौथ से दो दिन पहले शिव बलरामपुर जनपद जाने की बात कहकर निकला था और फिर वापस घर नहीं लौटा। इस पर जनकराम ने मधु को पुलिस के पास जाकर उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कहा। मधु पुलिस के पास पहुंची और तहरीर देकर लौट आई।

वहीं पुलिस ने भी इस मामले को गंभीरता से नहीं लिया। कुछ दिन पहले जनकराम ने मधु से शिव की गुमशुदगी की एफआईआर कापी मांगी तो उसने बताया कि पुलिस ने आज तक उसकी रिपोर्ट ही नहीं दर्ज की। मधु की यह बात सुन जनकराम के कान खड़े हुए। चार दिन पहले जनकराम का बेटा प्रदीप मडिय़ांव पुलिस के पास पहुंचा और पूरा मामला बताया। पुलिस ने जब पूरी बात सुनी तो सबसे पहले पुलिस को शिव की पत्नी मधु पर शक हो गया। इसके बाद मडिय़ांव पुलिस ने मधु को हिरासत में ले लिया। कई चक्र पूछताछ के बाद मधु आखिरकार टूट गयी और उसने बताया कि करवाचौथ से दो दिन पहले उसके अपने पति ने उसको और उसके प्रेमी नीरज को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था।

 शिव ने इस बात पर विरोध जताया था तो मधु और उसके प्रेमी नीरज ने मिलकर शिव की दुपट्टïे से गला दबाकर हत्या कर दी थी और फिर शिव के दोनों हाथ उसी दुपट्टïे से बांध कर सैफ्टी टैंक में शव को डाल दिया था। मधु के इस खुलासे के बाद मडिय़ांव पुलिस ने उसको गिरफ्तार कर लिया। रविवार की सुबह मडिय़ांव पुलिस शिव के घर पहुंची। पुलिस ने पहले तो सैफ्टी टैंक से सारा गंदा पानी बाहर निकलवाया और फिर टैंक में पड़े शिव का शव निकाला गया। शव पूरी तरह सड़ चुका था। छानबीन के बाद पुलिस ने शिव के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इस मामले में अब पुलिस शिव के मौसेरे भाई नाका निवासी नीरज की तलाश में लगी है।

You May Also Like

English News