किसी दिन अचानक महेंगा हो सकता है भारतीय रेल का किराया

प्रधानमंत्री कार्यालय ने रेलवे का किराया बढ़ाने की अनुमति दे दी है, जोकि काफी सालों से रुका हुआ था। माना जा रहा है कि इस साल के अंत तक यात्री किराए में बढ़ोतरी की जा सकती है।किसी दिन अचानक माँगा हो सकता है भारतीय रेल का किराया

इन्फ्रास्ट्रक्चर मिनिस्ट्री द्वारा अप्रैल माह के अंत में हुई मीटिंग के बाद इसके संकेत मिल गए थे। इस बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी, जिसमें रेलवे को लेकर चर्चा की गई थी। इंडियन एक्सप्रेस को मिली कॉपी के मुताबिक, पीएमओ द्वारा जारी निर्देशों में ‘यात्री किराए में बढ़ोतरी” शामिल है। इस फैसले की समय सीमा सितंबर 2017 बताई गई है।

रेलवे किराए में बढ़ोतरी से अक्सर राजनीतिक पार्टियों को नुकसान उठाना पड़ता है। किराए में बढ़ोतरी को मंजूरी देना हमेशा से मंत्रालय के लिए चुनौती के समान रहा है। यही कारण है कि रेलवे ने किराए बढ़ोतरी के फैसले पर चुप्पी साधी हुई है और आधिकारिक तौर पर ऐसे किसी भी फैसले से इंकार किया है। अप्रैल में हुई रिव्यू मीटिंग के दस्तावेजों से पता लगता है कि रेलवे किराया एक झटके में काफी बढ़ सकता है। मीटिंग में यह भी फैसला हुआ कि रेलवे को व्यवसायिक उद्यम के रूप में काम करना होगा और ग्राहक अनुभव सुधारते हुए यात्रियों की सेफ्टी जैसी चीजों पर ध्यान देना होगा।

 

You May Also Like

English News