एक बार फिर पद्मावत फिल्म को लेकर शुरू हुआ विवाद, मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर में लगाई आग

एक बार फिर पद्मावत फिल्म को लेकर शुरू हुआ विवाद तूल पकड़ने लगा है। बृहस्पतिवार रात फिल्म के विरोध में चार-पांच नकाबपोश युवकों ने राष्ट्रीय राजमार्ग स्थित फरीदाबाद सीटीसी मॉल में बने मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर को आग के हवाले कर दिया। हालांकि, वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने मॉल में लगे अग्निशमन यंत्रों से आग के फैलने से पहले ही काबू कर लिया। सुरक्षाकर्मियों की सतर्कता के चलते एक बड़ा हादसा होने से टल गया। आग फैल जाती तो मॉल में मौजूद दर्जनों शोरूम जलकर राख हो जाते।एक बार फिर पद्मावत फिल्म को लेकर शुरू हुआ विवाद, मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर में लगाई आगसुप्रीम कोर्ट से पद्मावत फिल्म पर प्रतिबंध को हटाकर 25 जनवरी को उसके रिलीज का रास्ता साफ कर दिया है। इससे नाराज राजपूत समाज एक बार फिर इसके विरोध में सड़कों पर उतर आया है। बृहस्पतिवार रात सीटीसी मॉल स्थित सिल्वर स्क्रीन मल्टीप्लेक्स का आखिरी शो करीब नौ बजे शुरू हो गया था। उसके बाद टिकट काउंटर बंद कर दिया गया था। थाना सेंट्रल पुलिस के अनुसार, रात करीब पौने दस बजे चार-पांच युवक जिन्होंने अपने चेहरे ढक रखे थे, मॉल में आए और टिकट काउंटर के पास पहुंच कर उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। 

वे पद्मावत फिल्म के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। जब तक वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी कुछ समझ पाते, उन युवकों ने अचानक टिकट काउंटर पर किसी ज्वलनशील पदार्थ से भरी बोतल फेंकी और आग लगा दी। टिकट काउंटर को आग के हवाले कर युवक वहां से फरार हो गए। आग लगी देख वहां तैनात सुरक्षाकर्मी हरकत में आए और तुरंत ही वहां लगे अग्निशमन यंत्रों से आग को बुझा दिया। घटना की सूचना थाना सेंट्रल प्रभारी राजदीप मोर को दी गई। मौके पर पहुंचे थाना सेंट्रल प्रभारी ने जांच पड़ताल के बाद आला अधिकारियों को घटना की सूचना दी। 

थाना सेंट्रल प्रभारी, राजदीप सिंह मोर के मुताबिक मॉल में आग लगने की घटना के मामले में आरोपियों की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। सुरक्षा के लिहाज से सभी मॉल्स पर पुलिस कर्मी लगा दिए गए हैं और वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों को भी सतर्क रहने के लिए कहा गया है। यदि कोई व्यक्ति संदिग्ध लगता है तो उसे मॉल में प्रवेश करने से पहले ही रोक लें। इसके अलावा पुलिस नियमित रूप से इन मॉल के आसपास गश्त कर रही है। किसी को कानून अपने हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। 

भंसाली का पुतला फूंका 

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर उमेश भाटी के नेतृत्व में शुक्रवार शाम को राजपूत समाज के लोगों ने कनिष्का टावर के पास पद्मावत फिल्म का विरोध किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली का पुतला भी फूंका। भाटी ने कहा कि अभिव्यक्ति की आजादी का मतलब ये नहीं कि पैसा कमाने के लिए कोई किसी भी समाज के इतिहास के साथ छेड़छाड़ करे। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर कोई भी सिनेमा हॉल या मल्टीप्लेक्स इस फिल्म को दिखाता है तो जो भी होगा, उसका जिम्मेदार समाज नहीं बल्कि सरकार और संजय लीला भंसाली होंगे। 

इस मौके पर सत्यभान चौहान, हरिओम जादौन, लखन शर्मा, अनिल राजावत, सुमित, अभिषेक राघव, संजय राठौर, श्याम सुंदर जादौन, आर पी सिंह, सीपी सिंह, जंगबहादुर सिह, एचएन रावत, रिंकू तोमर और मनोज राजपूत सहित कई लोग मौजूद थे। 

You May Also Like

English News