एक साल से खामोश केजरीवाल ने PMO पर बोला हमला, कहा- हमारी चुप्पी को कमजोरी न समझें

तकरीबन एक साल से खामोश से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री ऑफिस (PMO) पर फिर से हमला बोला है। पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाकर अपनी किरिकरी कराने वाले अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को पत्रकार वार्ता कर पीएमओ पर जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने केंद्र सरकार और पीएमओ पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि दोनों ही दिल्ली सरकार के कामों को ठप करने की कोशिश कर रहे हैं। यहां पर बता दें कि दिल्ली नगर निगम चुनाव में करारी हार के बाद से अरविंद केजरीवाल प्रधानमंत्री पर सीधा हमला बोलने से कतरा रहे थे, लेकिन सोमवार को इशारों में निशाना साधा है। जानें पत्रकार वार्ता की अहम बातें  1. भाजपा सरकार बिजली कंपनी से मिली हुई है।  2. दिल्ली सरकार के कामों में दो एजेंसी बाधा डाल रही हैं  3. एसीबी और सीबीआइ ने हमारे खिलाफ जो केस किया है उसकी लिस्ट है।  4. मोहल्ला क्लीनिक के 3 लाख पेज फोटोकॉपी लेकर गई है सीबीआई।  5. जल बोर्ड से अनापशनाप फ़ाइल उठायी।  6. अमित शाह और पीएम मोदी से पूछ रह हूं कि अभी तक क्या हुआ उस केस का।  7. प्याज़ खरीद और एडवरटाइजिंग की जांच चल रही है। क्यों नहीं मनीष को गिरफ्तार करते।  8. बीआरटी पर केस किया था, 2 साल में क्या हुआ उस केस का?  9. कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था 2 करोड़ का, अभी तक क्या हुआ उसमें।  10. ओपी शर्मा, विजेंद्र गुप्ता और भाजपा नेताओं ने केस किए हैं दिल्ली सरकार के खिलाफ, लेकिन केस में अभी तक कुछ नही हुआ।

आम आदमी पार्टी सरकार को परेशान करने का मुद्दा उठाते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आइएएस, ईडी, एसीबी पुलिस सभी को हमारे पीछे छोड़ा जा रहा है। अपनी चुप्पी को लेकर उन्होंने कहा कि तीन महीने से हम पर जबरदस्त हमला हो रहा है। कहा जा रहा है कि अरविंद केजरीवाल ने एक साल से कुछ बोल नहीं रहे, लेकिन इस चुप्पी का गलत फायदा उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जनहित के काम मोहल्ला क्लीनिक, स्कूल, कॉलेज राशन डिलीवरी और बिजली-पानी जैसी योजना रोकने की कोशिश की जा रही है।

आम आदमी पार्टी मुखिया अरविंद केजरीवाल ने भाजपा हर हमला बोलते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने चार साल के शासन के दौरान कोई काम नहीं किया है। भाजपा शासित प्रदेशों का जिक्र करते हुए कहा कि यहां पर सरकारों ने कोई काम नहीं किया, इस दौरान मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य का खासतौर से जिक्र किया। बता दें कि यहां पर भाजपा की सरकार है और इसी साल यहां विधानसभा चुनाव होने हैं।

पत्रकार वार्ता के दौरान दिल्ली में सत्तासीन आम आदमी पार्टी सरकार की पीठ थपथपाने के साथ अरविंद केजरीवाल ने भाजपा को जमकर निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि जो ये सवाल उठ रहे हैं कि सिर्फ 3 साल पुरानी सरकार जो कर रही है उसे 20 साल पुरानी भाजपा सरकारें भी नहीं कर पाईं।

जानें पत्रकार वार्ता की अहम बातें

1. भाजपा सरकार बिजली कंपनी से मिली हुई है।

2. दिल्ली सरकार के कामों में दो एजेंसी बाधा डाल रही हैं

3. एसीबी और सीबीआइ ने हमारे खिलाफ जो केस किया है उसकी लिस्ट है।

4. मोहल्ला क्लीनिक के 3 लाख पेज फोटोकॉपी लेकर गई है सीबीआई।

5. जल बोर्ड से अनापशनाप फ़ाइल उठायी।

6. अमित शाह और पीएम मोदी से पूछ रह हूं कि अभी तक क्या हुआ उस केस का।

7. प्याज़ खरीद और एडवरटाइजिंग की जांच चल रही है। क्यों नहीं मनीष को गिरफ्तार करते।

8. बीआरटी पर केस किया था, 2 साल में क्या हुआ उस केस का?

9. कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था 2 करोड़ का, अभी तक क्या हुआ उसमें।

10. ओपी शर्मा, विजेंद्र गुप्ता और भाजपा नेताओं ने केस किए हैं दिल्ली सरकार के खिलाफ, लेकिन केस में अभी तक कुछ नही हुआ।

 

You May Also Like

English News