एक हादसा आपकी लाखों रुपये की गाढ़ी कमाई को कर सकता है जीरो, जरुर पढ़े ये खास खबर…

आप अपनी गाढ़ी कमाई को बैंक में संभाले रखते हैं. इसके लिए आप हर दिन कड़ी मेहनत करते हैं.  लेक‍िन एक हादसा आपकी लाखों रुपये की गाढ़ी कमाई जीरो कर सकता है. इसलिए जरूरी है कि आप इसके लिए तैयार रहें.एक हादसा आपकी लाखों रुपये की गाढ़ी कमाई को कर सकता है जीरो, जरुर पढ़े ये खास खबर...
 बहुत जल्द CM योगी दे सकते हैं शिक्षकों को बड़ी खुशखबरी, कैबिनेट की हरी झंडी का इंतजार….

आप भले ही रिटायरमेंट के तौर पर लाखों रुपये जमा कर रहे हों, लेक‍िन जीवन में अगर कोई मेडिकल इमरजेंसी आ गई, तो आपकी ये पूरी बचत दांव पर लग जाएगी.
 

भारत सरकार की संस्था नेशनल सैंपल सर्वे की तरफ से 2014 में एक सर्वे किया गया. इसमें सामने आया कि आज भी 82 फीसदी शहरी लोग बीमारी से उभरने के लिए अपनी गाढ़ी कमाई का सहारा लेते हैं.
 

वहीं, ग्रामीण भाग में 86 फीसदी लोगों को ये भार उठाना पड़ता है. विभाग का कहना है कि ऐसा इसलिए होता है क्योंकि इन्होंने कोई भी हेल्थ इंश्योंरेस नहीं लिया होता है.
 

अगर आप भी इन लोगों में शामिल हैं, तो आपको हेल्थ इंश्योरेंस पर खर्च करने से पीछे नहीं रहना चाहिए. मौजूदा समय में अस्पताल में इलाज का खर्च लगातार बढ़ता जा रहा है. गंभीर बीमार‍ियों पर लोगों को 10 लाख से ज्यादा रुपये खर्च  करने पड़ रहे हैं.
 

ऐसी अनपेक्ष‍ित परिस्थियों से निपटने में आपकी मदद करता है हेल्थ इंश्योंरेंस. यह आपको मेडिकल इमरजेंसी के समय काफी सहयोग देता है. इसे आप जितना जल्दी खरीदेंगे, उतना ही सस्ता ये आपके लिए होगा.
 

अपने लिए और अपने परिवार की खातिर हेल्थ इंश्योरेंस लेने से पहले अलग-अलग विकल्पों पर गौर जरूर करें. कम प्रीमियम नहीं, बल्कि ज्यादा कवरेज वाले इंश्योंरेस को प्राथमिकता दें.
 

दरअसल ऐसा इसलिए होता है क्योंकि जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, वैसे-वैसे बीमारियों के झकड़ने की आशंका भी बढ़ती जाती है. इसलिए हेल्थ कवर जल्द से जल्द लेना फायदेमंद साबित होता है. इसे आपको खुद के लिए व अपने परिवार के लिए भी लेना चाहिए.

You May Also Like

English News