एडिलेड में डे-नाइट टेस्ट नहीं खेलेगी टीम इंडिया, CA ने लगाई मुहर

इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत एडिलेड में डे-नाइट डेस्ट नहीं खेलेगा। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस बात की पुष्टि कर दी है।इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारत एडिलेड में डे-नाइट डेस्ट नहीं खेलेगा। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस बात की पुष्टि कर दी है।  क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बीसीसीआई को इस बात पर राजी करने में जुटा था कि भारत सीरीज का पहला टेस्ट दूधिया रोशनी में खेले। मगर बीसीसीआई ने इसे साफ तौर पर इनकार कर दिया। ऐसे में एडिलेड में होने वाला टेस्ट सीरीज का पहला मैच अब डे-नाइट नहीं होगा।  क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रवक्ता ने बताया कि," हमें बीसीसीआई से ये सलाह मिली है कि वो एडिलेड में होने वाले डे-नाइट टेस्ट के लिए तैयार नहीं है। हालांकि इससे एडिलेड के क्रिकेट फैंस जरूर मायूस होंगे। क्योंकि एडिलेड के दर्शक इस साल दिसंबर में भारतीय टीम की मेजबानी का इंतजार कर रहे थे।"  बीसीसीआई के इस फैसले के बाद ऑस्ट्रेलिया 2019 के जनवरी महीने में श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज का एक मैच डे-नाइट खेलेगी। दो मैच की टेस्ट सीरीज की शुरुआत ब्रिसबेन में 24 जनवरी से होगी। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि, हम इस टेस्ट सीरीज के दौरान कम से कम एक टेस्ट डे-नाइट खेलेंगे। ताकि टेस्ट क्रिकेट को जनता के बीच और लोकप्रिय बनाया जा सके।  इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित की गई कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स( CoA) से मुलाकात करके ये जानकारी दी थी कि भारतीय टीम को डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए अभी और तैयारी की जरूरत है। सीओए के फैसले के बाद बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव ने क्रिेकेट ऑस्ट्रेलिया को इसकी जानकारी दे दी थी।  आपको बता दें टेस्ट दर्जा हासिल देशों में से भारत और बांग्लादेश ही ऐसे दो मुल्क हैं, जिन्होंने डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेले हैं।  भारत दिसंबर में होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 21 से 25 नवंबर के बीच तीन मैचों की T-20 सीरीज खेलेगा। इसके बाद 6 दिसंबर से एडिलेड में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी की शुरुआत होगी। दोनों टीमें 14-18 दिसंबर के बीच पर्थ के नए बने स्टेडियम में दूसरा टेस्ट खेलेंगी। इसके बाद मेलबर्न और सिडनी में बॉक्सिंग डे और नए साल पर टेस्ट मैच होगा। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज भी होगी। इसकी शुरुआत 12 जनवरी को सिडनी से होगी।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया बीसीसीआई को इस बात पर राजी करने में जुटा था कि भारत सीरीज का पहला टेस्ट दूधिया रोशनी में खेले। मगर बीसीसीआई ने इसे साफ तौर पर इनकार कर दिया। ऐसे में एडिलेड में होने वाला टेस्ट सीरीज का पहला मैच अब डे-नाइट नहीं होगा।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के प्रवक्ता ने बताया कि,” हमें बीसीसीआई से ये सलाह मिली है कि वो एडिलेड में होने वाले डे-नाइट टेस्ट के लिए तैयार नहीं है। हालांकि इससे एडिलेड के क्रिकेट फैंस जरूर मायूस होंगे। क्योंकि एडिलेड के दर्शक इस साल दिसंबर में भारतीय टीम की मेजबानी का इंतजार कर रहे थे।”

बीसीसीआई के इस फैसले के बाद ऑस्ट्रेलिया 2019 के जनवरी महीने में श्रीलंका के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज का एक मैच डे-नाइट खेलेगी। दो मैच की टेस्ट सीरीज की शुरुआत ब्रिसबेन में 24 जनवरी से होगी। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि, हम इस टेस्ट सीरीज के दौरान कम से कम एक टेस्ट डे-नाइट खेलेंगे। ताकि टेस्ट क्रिकेट को जनता के बीच और लोकप्रिय बनाया जा सके।

इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित की गई कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स( CoA) से मुलाकात करके ये जानकारी दी थी कि भारतीय टीम को डे-नाइट टेस्ट खेलने के लिए अभी और तैयारी की जरूरत है। सीओए के फैसले के बाद बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव ने क्रिेकेट ऑस्ट्रेलिया को इसकी जानकारी दे दी थी।

आपको बता दें टेस्ट दर्जा हासिल देशों में से भारत और बांग्लादेश ही ऐसे दो मुल्क हैं, जिन्होंने डे-नाइट टेस्ट मैच नहीं खेले हैं।

भारत दिसंबर में होने वाली टेस्ट सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 21 से 25 नवंबर के बीच तीन मैचों की T-20 सीरीज खेलेगा। इसके बाद 6 दिसंबर से एडिलेड में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी की शुरुआत होगी। दोनों टीमें 14-18 दिसंबर के बीच पर्थ के नए बने स्टेडियम में दूसरा टेस्ट खेलेंगी। इसके बाद मेलबर्न और सिडनी में बॉक्सिंग डे और नए साल पर टेस्ट मैच होगा। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज भी होगी। इसकी शुरुआत 12 जनवरी को सिडनी से होगी।

You May Also Like

English News