एमपी का शातिर तस्कर गिरफ्तार किया, जो नक्सलियों को दे रहे थे हथियार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक ऐसे शातिर हथियार तस्कर को गिरफ्तार किया है, जो पिछले 30 सालों से बेखौफ हथियारों की तस्करी कर रहा था. आरोपी ने मध्यप्रदेश के बुरहानपुर में हथियार बनाने की फैक्ट्री बना रखी है. स्पेशल सेल ने आरोपी रिष्कपाल सिंह को दिल्ली के बुराड़ी से उस वक्त गिरफ्तार कर लिया, जब वह किसी को कुछ हथियार देने जा रहा था.ये भी पढ़े: ईवीएम छेड़छाड़ पर आज चुनाव आयोग की होगी अहम बैठक!

स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव यादव ने बताया कि रिष्कपाल का पूरा परिवार पिछले कई सालों से हथियारों की तस्करी किया करता है. यहां तक कि रिष्कपाल 2006 में नक्सलियों को भी हथियार सप्लाई करता था. नक्सलियों को हथियार सप्लाई करने के मामले में आंध्र प्रदेश पुलिस ने 2006 में रिष्कपाल को गिरफ्तार किया था.

डीसीपी संजीव यादव ने बताया कि पूछताछ में हथियार तस्कर रिष्कपाल ने बताया की मध्य प्रदेश के बुरहानपुर में रिष्कपाल और उसके परिवार हथियार बनाने की फैक्ट्री चलाता है. जहां 3000 रुपये में एक पिस्टल बनाता है. जिसे बाद में 10000 रुपये में बेचा जाता है. बदमाशों तक पिस्टल पहुंचते पहुंचते उस पिस्टल की कीमत 30000 तक पहुंच जाती है.

यादव ने बताया कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पिछले काफी समय से दिल्ली में बढ़ रही हथियारों की तस्करी पर नजर बनाए हुए है. आप हैरान रह जाएंगे ये जान कर कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल से अभी तक दर्जनों हथियार तस्करों को गिरफ्तार कर चुकी है.

डीसीपी यादव के मुताबिक 1 जनवरी 2016 से अभी तक स्पेशल सेल 500 से भी ज्यादा हथियार बरामद चुकी है. 2016 से अभी तक स्पेशल से 30 हथियार तस्करो को भी गिरफ्तार कर चुकी है. 2017 में ही स्पेसल सेल 150 से भी ज्यादा हथियार दिल्ली से बरामद कर चुकी है.

दिल्ली स्पेशल के ये आंकड़े साफ बयान कर रहे है कि किस तरह दिल्ली हथियारों की तस्करी का ट्रांज़िट पॉइंट बनाती जा रही है. बहराल, अब दिल्ली पुलिस उन लोगो की तलाश में जुट गई है. जिन्हें रिष्कपाल हथियारों की डिलीवरी करने आया था.

You May Also Like

English News