ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी पर पंजाब में हमले का खतरा, पूरे राज्य में की नाकेबंदी

पंजाब पुलिस ने पूरे सूबे में हाई अलर्ट जारी किया है. 6 जून को ऑपरेशन ब्लू स्टार की 33वीं बरसी को लेकर पंजाब पुलिस ने ये कदम उठाया. ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी पर पंजाब में हमले का खतरा, पूरे राज्य में की नाकेबंदीयह भी पढ़े: इंस्टाग्राम पर आलिया के 16 मिलियन फॉलोअर्स, से पीछे रह गए ये तीनों खान…

पंजाब पुलिस ने तमाम जिलों के एसएसपी को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं. साथ ही 24 घंटे नाके लगा कर वाहनों की चेकिंग करने के लिए कहा गया है. पुलिस पेट्रोलिंग बढ़ाने के भी निर्देश दिए गए हैं. अमृतसर, पटियाला और अन्य कई जिलों में पंजाब पुलिस के साथ पैरामिलिट्री फोर्सेज की कई कंपनियां तैनात की गई हैं.

बरसी मनाने का ऐलान
दरअसल, पंजाब के कई सिख गरमपंथी संगठनों की तरफ से ऑपरेशन ब्लू स्टार की बरसी मनाने का ऐलान किया गया है. जिसके बाद पंजाब पुलिस ने एहतियातन ये कदम उठाया.

गृह मंत्रालय की तरफ से अलर्ट
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी पंजाब पुलिस को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं. दरअसल, पंजाब में पिछले कुछ दिनों के भीतर कार लूटपाट की 12 घटनाएं केंद्रीय जांच एजेंसियों के शक के दायरे में है. एजेंसियों को आशंका है कि ब्लू स्टार ऑपरेशन की 33वीं बरसी के मौके पर इन कारों का इस्तेमाल कर फिदायीन आतंकी किसी बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम दे सकते हैं. कार लूट की ये घटनाएं भारत-पाकिस्तान सीमा से सटे इलाकों में हुई हैं. जिसके चलते पंजाब पुलिस को अलर्ट जारी किया गया है.

बता दें कि 6 जून 1984 को ऑपरेशन ब्लू स्टार किया गया. भारतीय सेना का ये मिशन अमृतसर के स्वर्ण मंदिर को जरनैल सिंह भिंडरावाले और उनके समर्थकों के चंगुल से छुड़ाना था. इस ऑपरेशन को स्वतंत्र भारत में असैनिक संघर्ष के इतिहास की सबसे खूनी लड़ाई माना जाता है. इस ऑपरेशन में सैकड़ों की संख्या में लोग मारे गए थे.

You May Also Like

English News