ऑस्ट्रेलिया को रौंदकर वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची भारतीय महिला टीम

भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने वर्ल्ड कप के दूसरे सेमीफाइनल में एक रोमाचंक मुकाबले में वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को 36 रनों से मात देते हुए फाइनल में जगह बना ली है।

देखें, भारतीय सेना की इतनी ज्यादा है ताकत…खत्म कर सकती है एक साथ इन बड़े देशों को, लेकिन फिर भी…

ऑस्ट्रेलिया को रौंदकर वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची भारतीय महिला टीम

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से  एलेक्स ब्लैकवेल से सबसे ज्यादा 90 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेली, वहीं भारत की तरफ से दीप्ती शर्मा ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए 5 विकेट झटके। इससे पहले हरमनप्रीत कौर (नाबाद 171) की तूफानी पारी के दम पर भारत ने आईसीसी महिला विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल मैच में गुरुवार को मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया के सामने 282 रनों की विशाल चुनौती रखी है।

अभी-अभी: CIA एजेंटों ने किया अमेरिका और पाक का ये बड़ा खुलासा…

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 42 ओवरों में चार विकेट खोकर 281 रन बनाए। बारिश के कारण मैच देरी से शुरू हुआ इसलिए अंपायरों ने ओवरों की संख्या 50 से घटाकर 42 कर दी। भारत को इस स्कोर तक पहुंचाने में हरमनप्रीत का अहम योगदान रहा। उन्होंने अपनी पारी में सिर्फ 115 गेंदों का सामना करते हुए 20 चौके और सात छक्के लगाए और तीन अहम साझेदारी करते हुए टीम को विशाल स्कोर प्रदान किया।यह हरमनप्रीत का वनडे में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर भी है।

#Video: यही है प्राइवेट स्कूल की दुनिया का सबसे घिनौना सच, विडियो में देखें स्कूल में कैसे पार की जा रही हैं अश्लियत की हदें…

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम अच्छी शुरुआत नहीं मिली। स्मृति मंधाना ने बल्ले से एक बार फिर नाकाम रहीं। वह पहले ही ओवर की आखिरी गेंद पर छह रनों के कुल स्कोर पर आउट हो गईं। पूनम राउत (14) भी कुछ खास नहीं कर पाईं और 35 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गईं। इसके बाद हरमनप्रीत और कप्तान मिताली राज ने टीम को संभाला और तीसरे विकेट के लिए 66 रनों की साझेदारी करते हुए सौ का आंकड़ा पार कराया। मिताली 101 के कुल स्कोर पर आउट होकर पवेलियन लौट गईं। दूसरे छोर पर खड़ी हरमनप्रीत को इसके बाद दीप्ति शर्मा का साथ मिला। दोनों ने मिलकर चौथे विकेट के लिए 137 रन जोड़े। 

#Video: जब लड़की खूबसूरती देख बहक गया बच्चा, लड़की को नहीं थी भनक और देखते ही देखते लड़के ने पार कर दी सारी हदें

इस जोड़ी ने धीमी शुरुआत के बाद लय पकड़ी और फिर टीम को मजबूत लक्ष्य प्रदान किया। हालांकि इस दौरान हरमनप्रीत तेजी से रन बनाती दिखीं जबकि दीप्ति ने उनका अच्छा साथ दिया और स्ट्राइक रोटेट करती रहीं। उन्होंने 35 गेंदों में 25 रन बनाए और सिर्फ एक चौका मारा। इस जोड़ी को एलिस विलानी ने 238 के कुल स्कोर पर तोड़ा। इसके बाद वेदा कृष्णामूर्ति ने हरमनप्रीत का अच्छा साथ दिया। इस जोड़ी ने चार ओवरों के बल्लेबाजी पावरप्ले में 57 रन जोड़ आस्ट्रेलिया को विशाल लक्ष्य दिया।आस्ट्रेलिया की तरफ से मेगन शट, एशेल गार्डनर, कर्स्टन बीम्स, एलिस विलानी ने एक-एक विकेट लिया। 

 

You May Also Like

English News