ओपी सिंह ने कहा- पैरामिलिट्री की तर्ज पर बनेगी महिलाओं की बटालियन

पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने कहा कि पैरामिलिट्री की तर्ज पर यूपी में महिलाओं की बटालियन बनाई जाएगी। इस बटालियन का प्रयोग कानून व्यवस्था सुधारने में किया जाएगा।ओपी सिंह ने कहा- पैरामिलिट्री की तर्ज पर बनेगी महिलाओं की बटालियन

बढ़ते साइबर अपराधों के मद्देनजर हर जिले में साइबर यूनिट गठित करने के साथ फोरेंसिक लैब को अपग्रेड किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसी मुठभेड़ को लेकर कोई सवाल नहीं है।

डीजीपी ओपी सिंह शनिवार को सहारनपुर पुलिस लाइन के गेस्ट हाउस उद्घाटन के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अपराधियों के खिलाफ पुलिस आक्रामक होकर कार्रवाई करेगी।

जो भी बदमाश पुलिस पर गोली चलाएगा उसका जवाब गोली से ही दिया जाएगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रदेश में हुई तमाम पुलिस मुठभेड़ कानूनी दायरे में हुई है। हर मुठभेड़ की मजिस्ट्रीयल जांच हुई है। किसी मुठभेड़ को लेकर कोई शिकायत नहीं है।
 
डीजीपी ने कहा कि पिछले एक साल में प्रदेश की कानून व्यवस्था में सुधार के साथ संगीन अपराधों का ग्राफ भी नीचे आया है। खासतौर से हत्या और डकैती के हैड में कमी आई है। पूरा फोकस बेसिक पुलिसिंग पर रहा है।

एक साल में प्रदेश में पुलिस के द्वारा 1450 ऑपरेशन किए गए, जिनमें 3354 अपराधी पकड़े गए। ऑपरेशन के दौरान पुलिस पर गोली चलाने वाले 48 बदमाशों को ढेर किया गया।

पुलिस दबाव में 6818 अपराधी जमानत तुड़वाकर जेल चले गए। गैंगस्टर के 203 मामलों में 199 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई, जो एक रिकार्ड है। अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार, डीआईजी शरद सचान, एसएसपी बबलू कुमार, एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे।

साइबर क्राइम को लेकर दी जाएगी ट्रेनिंग

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि साइबर क्राइम को लेकर जिला स्तर पर यूनिट के अलावा राज्य स्तर पर अलग से सैल गठित किया जाएगा। प्रत्येक दरोगा और इंस्पेक्टर को साइबर अपराधों की विवेचना की विशेष ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।

महिलाओं पर होने वाले अत्याचार रोकने के लिए एंटी रोमियो स्क्वाड को और संवेदनशील बनाया गया है। डीजीपी के मुताबिक एक लाख स्थानों पर 28 लाख लोगों को चेक किया गया। स्क्वाड की तरफ से 200 मामलों में मुकदमे पंजीकृत कराए गए हैं।

You May Also Like

English News