ओबामा को चादर, ट्रंप को ताला और यूपी को सपने बेच रहे हैं, राहुल गांधी

यूपी के चुनावी मौसम में राहुल गांधी के भाषणों का भी शोर है. राहुल गांधी आजकल दरी, चादर, घड़ी, ताले, मंजन वाले सपने बेच रहे हैं और उन्होंने खरीदार भी बराक ओबामा और डोनाल्ड ट्रंप जैसी शख्सियतों को बनाया है. बाराबंकी की रैली में राहुल ने कहा कि मैं चाहता हूं ऐसा दिन आए कि ओबामा साहब सुबह जाकर जब दांत मांजें और पेपरमिंट का पेस्ट यूज करें और घुमाकर देखें तो उस पर लिखा हो मेड इन बाराबंकी.

UP चुनाव: पीएम मोदी बिना सोचे समझे काम करते हैं: राहुल गांधी

अमित शाह बोले, यूपी हत्या, बलात्कार, भ्रष्टाचार में नंबर वन…

यूपी के बाराबंकी में बराक ओबामा को मंजन बेचने के बाद सीतापुर में राहुल के राजनैतिक शॉपिंग स्टोर में सेब और दरी थी. उन्होंने कहा कि मैं ऐसा दिन देखना चाहता हूं कि जब मैं चीन जाऊं, तब जिसने मुझसे सेब की बात कही थी, उसके घर पर मुझे लहरपुर की दरी दिखाई दे. वो कहे कि यूपी में एक जगह है लहरपुर, वहां से मैंने खरीदी है. मेरा पैसा लहरपुर के घर में गया है.

राहुल गांधी आजकल यूपी में जहां भी भाषण देने जाते हैं उनके भाषण के स्क्रिप्ट राइटर उस एक सामान का ज़िक्र करना नहीं भूलते जिस सामान को अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और कभी-कभी अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस्तेमाल करेंगे. अलीगढ़ में उऩ्होंने कहा कि मैं वो दिन देखना चाहता हूं कि जब डोनाल्ड ट्रंप व्हाइट हाउस में ताला लगाएं और देखें कि ये ताला बहुत सुंदर है. ये ताला कहां से आया तो कहें कि ये अलीगढ़ का ताला है. मेड इन अलीगढ़!

इससे पहले राहुल गांधी गाज़ियाबाद के मुरादनगर में आकर अपने राजनैतिक शॉपिंग स्टोर से बराक ओबामा के बेड के लिए चादर बेचकर गए थे. मुरादनगर में उन्होंने कहा कि बराक ओबामा बेड की चादर देखें तो कहें कि ये चादर कहां से आई, जवाब मिले गाजियाबाद से. कुल मिलाकर राहुल गांधी मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर पीएम मोदी के राजनैतिक हमले के जबाव देने की कसर पूरी कर रहे हैं जिसमें उनके राजनैतिक शॉपिंग स्टोर से पीएम मोदी के मेक इन इंडिया की सोच टारगेट पर है.

राहुल ने कहा कि मोदीजी कहते हैं मेक इन इंडिया पूरे देश को कह दिया… मगर जो देश में बनाता है बुनकर, किसान , प्लाइवुड वाला, मुरादाबाद में ब्रास की चीज़ें, लखनऊ में आम, इलाहाबाद में अमरूद उसकी मदद नहीं करेंगे उसको कुछ नहीं देंगे वो देखते रह जाएगा। मेरे पास लिस्ट है देखो बारबंकी में पेपरमिंट, कन्नौज का इत्र, बरेली में ब्रास का काम, कानपुर का लेदर, मिर्जापुर का कालीन, फिरोजबाद का कांच, इलाहाबाद का अमरूद, प्रतापगढ़ का आंवला, लखनऊ का आम, मुराबादा की ब्रास फैक्ट्री अमेठी का टमाटर, ये ही तो मेक इन इंडिया है, इनकी मदद कहां कर रहे हो… यही तो बनाएंगे हिंदुस्तान को.

loading...

You May Also Like

English News