कई सालों के बाद राजधानी में फिर हुई रोड होल्डअप की वारदात

400x400_image59231041लखनऊ , 27 अक्टूबर। राजधानी में लूट की सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। खास कर काकोरी व मलिहाबाद इलाके में लुटेरों का आतंक अपने चरम पर पहुंच गया। कई वषों से राजधानी में रोड होल्डअप की एक भी घटना नहीं घटी थी पर मंगलवार की देर रात बदमाशों मलिहाबाद इलाके में रोड होन्डअप की वारदात को अंजाम देकर पुलिस की निष्क्रियता को साबित कर दिया। बदमाशों ने सेब से लदे एक ट्रक को लूट लिया। बदमाशों ने ट्रक चालक व क्लीनर के हाथ पैर बांध कर कुछ दूरी पर डाल दिया और ट्रक लेकर फरार हो गये। बुधवार की सुबह किसी तरह ट्रक चालक व क्लीनर ने खुद को मुक्त कराया और सूचना पुलिस को दी। मलिहाबाद पुलिस ने पहले तो मामले को दबाने की कोशिश की पर बाद में अधिकारियों को जब इस घटना का पता चला तो पुलिस ने इस संबंध में लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। सीओ मलिहाबाद आईपीएस रोहित सहजवान ने बताया कि राजस्थान निवासी मोहम्मद उमर ट्रक चालक है। बताया जाता है कि वह जम्मू कश्मीर से सेब लादकर बिहार के लिए निकला था। चालक के साथ ही ट्रक का क्लीनर भी मौजूद था। मंगलवार की रात वह लोग लखनऊ से हरदोई की तरफ जा रहे थे। मलिहाबाद मेें रहीमाबाद चौकी से कुछ किलोमीटर दूरी पर अचानक ट्रक के दो टायर पंचर हो गये। इस पर चालक ने ट्रक को सड़क के किनारे खड़ा कर दिया। चालक व क्लीनर दोनों ही पंचर हुए टायर को बदलाने की कोशिश में जुट गये। बताया जाता है कि इस बीच दो बदमाश वहां आ पहुंचे। दोनों ने ट्रक चालक व क्लीनर की मदद करने की बात कही। अंधेरी रात में मदद की बात सुन चालक व क्लीनर ने दोनों बदमाशों पर यकीन कर लिया। उन सब लोगों ने मिलकर पंचर हुए टायर बदले और जैक हटा दिया। इस बीच चार से पांच बदमाश और वहां आ गये और उन लोगों ने चालक व क्लीनर को पकड़ लिया। इसके बाद बदमाश चालक व क्लीनर को बहाने से कुछ दूर ले गये और फिर एक सुनसान जगह पर दोनों को बंधक बना लिया। बदमाशों ने चालक व क्लीनर के हाथ व पैर रस्सी से बांध दिये और वहां से निकल लिये। इसके बाद बदमाश ट्रक के पास पहुंचे और सेब से लदे ट्रक को लेकर वहां भाग निकले। सुबह करीब साढ़े चार बजे चालक व क्लीनर ने किसी तरह खुद को मुक्त कराया। इसके बाद उन लोगों ने इस बात की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। ट्रक लूट की सूचना मिलते ही मलिहाबाद पुलिस के हाथ-पैर फूल गये। फौरन ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी। पुलिस ने ट्रक चालक व क्लीनर से घटना के संबंध में बातचीत की। सूत्र बताते हैं कि पुलिस ने पहले तो घटना को दबाने की कोशिश की पर पुलिस के अधिकारियों को ट्रक लूट की भनक लग चुकी थी। अधिकारियों ने जब इस बारे में मलिहाबाद पुलिस से जानकारी ली तो पुलिस ने फौरन ही ट्रक चालक की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली। सीओ मलिहाबाद ने बताया कि लूट की रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है और लुटेरों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया कि ट्रक चालक व क्लीनर अब तक दोनों बदमाशों हुलिया भी नहीं बता सके हैं। सड़क पर कीलों को गाड़ कर वारदात को दिया गया अंजाम मलिहाबाद इलाके में हुए रोड होल्डअप की इस वारदात की सूचना मिलते ही एसपी ग्रामीण प्रताप गोपेन्द्र यादव भी मौके पर पहुंच गये। पुलिस ने जब छानबीन शुरू की तो पता चला कि रहीमाबाद चौकी के आगे जाने पर अचानक ट्रक के दोनों टायर पंचर हुए थे। उससे पहले ट्रक बिल्कुल सही था। इस बात से पुलिस के अधिकारी इस बात का अनुमान लगा रहे हैं कि बदमाशों ने सड़क पर कील को गाड़ कर पहले तो ट्रक पंचर किया और फिर जब ट्रक पंचर होकर खड़ा हो गया तो वारदात को अंजाम दिया। गैर जनपद के बदमाशों ने वारदात को दिया अंजाम इस वारदात की छानबीन में लगी पुलिस टीम इस बात को मान रही है कि रोड होल्डअप की इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने वाले बदमाश गैर जनपद के हैं। खास कर पुलिस की नज़र हरदोई, सीतापुर शाहजहांपुर व पीलीभीत जनपद के बदमाशों पर टीकी हुई है। पुलिस सूत्र बताते हैं कि रोड होल्डअप की वारदात को लखनऊ के बदमाश अंजाम नहीं दे सकते हैं ,क्योंकि राजधानी में इस तरह की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाश नहीं हैं। रोड होल्डअप की वारदात सबसे अधिक पश्चिमी यूपी में होती हैं। इसलिए पुलिस उधर के जनपदों के बदमाशों का मलिहाबाद में हुई घटना में शामिल होने का शक जता रहे हैं।

 
 
 
 

You May Also Like

English News