कनिमोझी को लेकर भाजपा नेता का विवादास्पद बयान

आजकल नेताओं का अपने विचारों पर भी नियंत्रण ही नहीं रहा है. मन में जो आता है, उसे व्यक्त कर दिया जाता है. ऐसा ही एक मामला अब दक्षिण भारत से आया है, जहां भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच. राजा ने द्रमुक नेता कनिमोझी को लेकर विवादास्पद बयान दिया है.चेन्नई : आजकल नेताओं का अपने विचारों पर भी नियंत्रण ही नहीं रहा है. मन में जो आता है, उसे व्यक्त कर दिया जाता है. ऐसा ही एक मामला अब दक्षिण भारत से आया है, जहां भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच. राजा ने द्रमुक नेता कनिमोझी को लेकर विवादास्पद बयान दिया है.  उल्लेखनीय है कि अभी तमिलनाडु के राज्यपाल द्वारा एक पत्रकार के गाल को छूने का मामला चर्चा में है. हालाँकि उस मामले में राज्यपाल बीएल पुरोहित द्वारा माफ़ी मांग ली गई है , लेकिन उस बात को उठाते हुए भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच. राजा ने अपने ट्वीट में कहा कि तमिलनाडु के पत्रकार सिर्फ राज्यपाल को लेकर ही सवाल क्यों उठा रहे हैं. वे उस व्यक्ति को लेकर सवाल क्यों नहीं उठाते हैं जिनकी एक अवैध बेटी और जिसे राज्यसभा सदस्य बनाया है.   द्रमुक नेता कनिमोझी ने कह दिया कि वह एच. राजा बातों का कोई जवाब नहीं देंगी.वह उनके स्तर तक नहीं गिर सकती. भले ही कनिमोझी ने कुछ नहीं कहा हो लेकिन इस बयान का विरोध करते हुए कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने ट्वीट किया कि कोई भी बच्चा अवैध नहीं होता है. सभी बच्चे वैध ही होते हैं. उन्होंने इस विषय पर भाजपा के विचार जानना चाहे कि वह इस मुद्दे पर क्या सोचती है. वहीं द्रमुक के वरिष्ठ नेता आरएस बाराथी का कहना है कि राजा को ऐसा कहने का कोई अधिकार नहीं है. बता दें कि करुणानिधि ने विधानसभा में कनिमोझी को अपनी बेटी स्वीकार किया था. स्मरण रहे कि इसके पूर्व त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत पर ए राजा ने राज्य में पेरियार की मूर्ति तोड़ने की भी अपील की थी.

उल्लेखनीय है कि अभी तमिलनाडु के राज्यपाल द्वारा एक पत्रकार के गाल को छूने का मामला चर्चा में है. हालाँकि उस मामले में राज्यपाल बीएल पुरोहित द्वारा माफ़ी मांग ली गई है , लेकिन उस बात को उठाते हुए भाजपा के राष्ट्रीय सचिव एच. राजा ने अपने ट्वीट में कहा कि तमिलनाडु के पत्रकार सिर्फ राज्यपाल को लेकर ही सवाल क्यों उठा रहे हैं. वे उस व्यक्ति को लेकर सवाल क्यों नहीं उठाते हैं जिनकी एक अवैध बेटी और जिसे राज्यसभा सदस्य बनाया है.

 द्रमुक नेता कनिमोझी ने कह दिया कि वह एच. राजा बातों का कोई जवाब नहीं देंगी.वह उनके स्तर तक नहीं गिर सकती. भले ही कनिमोझी ने कुछ नहीं कहा हो लेकिन इस बयान का विरोध करते हुए कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने ट्वीट किया कि कोई भी बच्चा अवैध नहीं होता है. सभी बच्चे वैध ही होते हैं. उन्होंने इस विषय पर भाजपा के विचार जानना चाहे कि वह इस मुद्दे पर क्या सोचती है. वहीं द्रमुक के वरिष्ठ नेता आरएस बाराथी का कहना है कि राजा को ऐसा कहने का कोई अधिकार नहीं है. बता दें कि करुणानिधि ने विधानसभा में कनिमोझी को अपनी बेटी स्वीकार किया था. स्मरण रहे कि इसके पूर्व त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत पर ए राजा ने राज्य में पेरियार की मूर्ति तोड़ने की भी अपील की थी.

You May Also Like

English News