कपिल मिश्रा का नया वार, केजरीवाल सरकार के खिलाफ लोकायुक्त को देने होगे ये ठोस सबूत…

आम आदमी पार्टी के निलंबित विधायक और दिल्ली सरकार में पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा अब सत्येंद्र जैन और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के ऊपर लगाए गए भ्रष्टाचार के सबूत लोकायुक्त को सौंपेंगे. खुद कपिल मिश्रा ने इसकी जानकारी ट्विटर के ज़रिए शेयर की. पहले कपिल मिश्रा को बुधवार को लोकायुक्त दफ्तर जाना था, लेकिन फिर उनको 6 जुलाई का समय मिला है. अब कपिल गुरुवार को सुबह 10 बजे लोकायुक्त दफ्तर जाएंगे.

GST पर दिल्ली में आज सम्मेलन, व्यापारियों का कंफ्यूजन दूर करेंगे जेटली…कपिल मिश्रा का नया वार, केजरीवाल सरकार के खिलाफ लोकायुक्त को देने होगे ये ठोस सबूत...मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ की तर्ज पर लॉन्च होगा योगी का ‘मेक इन यूपी’

आपको बता दें कि मंत्री पद से निलंबित होते ही कपिल मिश्रा ने दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए थे और उसकी शिकायत लोकायुक्त दफ्तर में की थी और मई के आखिरी हफ्ते में बकायदा लोकायुक्त में बयान भी दर्ज करा चुके हैं.

कपिल मिश्रा के मुताबिक उन्होंने 16 हज़ार पन्नों का सबूत तैयार किया है, जिसमें सत्येंद्र जैन और अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टाचार से जुड़े कई कागज़ात हैं, जिसे वो गुरुवार सुबह लोकायुक्त को सौंपेंगे. कपिल मिश्रा के मुताबिक गुरुवार को जो सबूत वो लोकायुक्त में देने जा रहे हैं उनमें जलबोर्ड टैंकर घोटाले की जांच में देरी, आम आदमी पार्टी नेताओं की विदेश यात्राएं और फर्ज़ी कंपनियों का हवाला के ज़रिए जो चंदा पार्टी को दिया गया है वो शामिल हैं.

आपको बता दें कि कपिल मिश्रा ने आम आदमी पार्टी के नेताओं की विदेश यात्रा पर हुए खर्चे और पार्टी को मिले चंदे की जानकारी मांगी थी और आरोप लगाया था कि सत्येंद्र जैन और अरविंद केजरीवाल दोनों मिले हुए हैं, क्योंकि सत्येंद्र जैन भ्रष्टाचार करते रहे और अरविंद केजरीवाल ने सबकुछ पता होते हुए भी जैन के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की.

You May Also Like

English News