कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार पर फोड़ा एक नया ‘भ्रष्टाचार बम’, और पूछे ये 8 सवाल

खास बातें

आप से निकाले गए कपिल मिश्रा ने फिर लगाए दिल्ली सरकार पर गंभीर आरोप

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट आवंटन में 400 करोड़ घोटाले का आरोप

आशुतोष और संजय सिंह को कहा, दोनों ने AAP को हाइजैक किया

यह भी पढ़े: ISRO के इन खास उपग्रहों से भारत में शुरू होने जा रहा है, हाई स्पीड इंटरनेट युग…कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार पर फोड़ा एक नया 'भ्रष्टाचार बम', और पूछे ये 8 सवाल

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (AAP) से निकाले गए विधायक कपिल मिश्रा ने रविवार को एक बार फिर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाए. कपिल मिश्रा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की अगुवाई वाली दिल्ली सरकार ने हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट मामले में 400 करोड़ रुपए का घोटाला किया है. उन्होंने कहा कि उम्मीद करते हैं कि अरविंद केजरीवाल उनके आरोपों को जवाब देने के लिए सामने आएंगे, वे पर्दे के पीछे नहीं छिपेंगे. कपिल मिश्रा ने कहा कि वे आप के भ्रष्टाचारियों को दूर भगाकर दम लेंगे. वक्त आ गया है कि दिल्ली की सरकार को राइट टू रिकॉल के तहत हटाया जाए. कहा कि आप को संजय सिंह और आशुतोष ने हाइजैक कर लिया है.

कपिल मिश्रा ने कहा कि वे आम आदमी पार्टी छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे. वे आप के उन नेताओं को एकजुट कर रहे हैं जो पार्टी को अरविंद केजरीवाल और भ्रष्टाचार मुक्त करना चाहते हैं. कपिल ने आम आदमी पार्टी के असंतुष्‍ट कार्यकर्ताओं के लिए मोबाइल नंबर जारी करते हुए कहा कि इसके जरिए जुड़ने वालों के साथ बैठक कर राइट टू रिकॉल पर बात करेंगे. 

मैं प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव से माफी मांगता हूं: कपिल मिश्रा

कपिल मिश्रा ने पार्टी से निकाले जा चुके प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव से अपील की कि वे अरविंद केजरीवाल और आप के कुछ नेताओं का भ्रष्टाचार सार्वजनिक करने में मदद करें. उन्होंने कहा, ‘मैं योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण से माफी मांगता हूं, मैंने अरविंद केजरीवाल के इशारे पर आपके बारे में अमर्यादित भाषा का इस्‍तेमाल किया.

कपिल मिश्रा ने ‘आप’ सरकार से पूछे 8 सवाल

क्या आपको शीतल सिंह जी के बारे में पता है जिन्होंने संजय सिंह व आशुतोष की रशिया की यात्रा स्पांसर की?

क्या आपको पता है शीतल पी सिंह हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट का Business करते हैं.

क्या आपको पता है दिल्ली में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट का 400 करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है जिसकी जांच जारी है?

क्या आपको मालूम है जिन कंपनियों के खिलाफ ये 400 करोड़ के घोटाले की जांच चल रही है उनसे शीतल सिंह जी के सीधे संबंध रहे हैं?

क्या आपको याद है 49 दिन की हमारी सरकार ने Rosermata HSRP VENTURES PVT LIMITED के CONTRACT को रद्द करने का फैसला लिया.

क्या आपको पता है दुबारा सरकार बनने के बाद हमारी अपनी सरकार के फैसले को लागू नहीं किया गया. आखिर ऐसा क्यों?

क्या आपको मालूम है कि इन कंपनियों में से कुछ लोगों के तार दुनिया के कई हवाला कारोबारियों से जुड़े हुए हैं?

क्या अब भी आप चुप ही बैठे रहेंगे?

पिछले दिनों कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी में हवाला कंपनियों का पैसा है. सोशल मीडिया पर झूठ फैलाया जा रहा है. हवाला के पैसों पर जवाब नहीं मिला है. 2 करोड़ रुपये देने वाला वीडियो झूठा है. अरविंद केजरीवाल ने जानबूझकर सच छुपाने के लिए मुकेश शर्मा को लेकर आए. कपिल मिश्रा ने आगे कहा कि हेमराज को छुपाने के लिए मुकेश शर्मा को सामने लाया गया है. हिम्मत है तो केजरीवाल कुर्सी छोड़कर जांच करवाएंगे. केजरीवाल सीधे तिहाड़ जाएंगे. केजरीवाल अपने हवाला कनेक्शन पर परदा डालना चाहते हैं. जांच अरविंद केजरीवाल के घर तक पहुंच गई है इसलिए बलि का बकरा बनाकर मुकेश शर्मा को सामने लेकर आए हैं. आयकर विभाग और ईडी हेमप्रकाश शर्मा को ढूंढ रही है. 

आप के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने इस मामले में कहा कि आप पर लगाए आरोप निराधार हैं. चंदा देने वाली हर कंपनी की जांच करना हमारे लिए संभव नहीं. बीजेपी और कांग्रेस में चंदा गलत तरीके से आता है.15 हजार लोग हर साल हमें चंदा देते हैं. कपिल मिश्रा के आरोपों पर जवाब देना उनके आरोपों पर तवज्जों देना है.

दरअसल, गुरुवार को खबर आई थी कि आम आदमी पार्टी को चंदा देने वाला सामने आ गया है. इसे लेकर कपिल मिश्रा ने सुबह ट्वीट किया था कि आज मैं इस संबंध में अरविंद केजरीवाल के झूठ का खुलासा करूंगा. जो भी एक क्लीन आप पार्टी देखना चाहते हैं, वे इसे जरूर देखें. इससे पहले गुरुवार को खबर आई थी कि मुकेश शर्मा नाम का एक शख्स सामने आया है और उसका दावा है कि उसने ही आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपये दिए. पहली बार एक शख्स सामने आया, जिसका कहना है कि ये चारों कंपनियां जिनके नाम से आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपये का चंदा अप्रैल 2014 में मिला है वह कंपनियां फ़र्ज़ी नहीं हैं, बल्कि वो चारों कंपनियां उसकी अपनी हैं.  उत्तर पूर्वी दिल्ली के गंगा विहार में रहने वाले मुकेश शर्मा ने एनडीटीवी इंडिया से कहा है कि ये चारों कंपनियां मेरी हैं.मैंने AAP को 2 करोड़ का चंदा दिया था. मैंने डिमांड ड्राफ़्ट बनवाकर चंदा दिया था. मुकेश शर्मा ने बताया कि वह राजनीतिक पचड़े में नहीं पड़ना चाहते थे इसलिए जब यह मामला दो साल पहले उठा तब मीडिया के सामने नहीं आए.

एनडीटीवी इंडिया से बात करते हुए मुकेश ने बताया कि मैं अरविंद केजरीवाल को नहीं जानता न उनसे मिला केवल चंदा देते समय पार्टी के सेक्रेटरी पंकज गुप्ता और खजांची संजू से मिला था. मैंने इसलिए चंदा दिया क्योंकि मुझे लगता था कि ये राजनीति में कुछ अच्छा करने आए हैं. 

एनडीटीवी इंडिया ने सवाल पूछा कि जब दो साल पहले यह मामला उठा था तब इन कंपनियों के पते पर जब रिपोर्टर जा रहे थे तो इसमें कोई नहीं मिल रहा था इसलिए इन कंपनियों के फर्जी होने का शक हुआ तो मुकेश शर्मा ने बताया कि पहली बार इस तरह का कोई विवाद हुआ था तो हम इसमें पड़ना नहीं चाहते थे इसलिए हमने उन जगहों पर कहा था कि कोई भी आए मना कर देना इसलिए किसी को कुछ नहीं मिला, लेकिन अब 4 में से 3 कंपनी करावल नगर में रजिस्टर्ड हैं और एक अलीपुर नरेला में.

आपको बता दें कि फरवरी 2015 में और अब कपिल मिश्रा और उनके सहयोगी ने आम आदमी पार्टी पर फ़र्ज़ी कंपनियों से 2 करोड़ का चंदा लेने का आरोप लगाया था और इस मामले में अभी तक कुछ सामने नहीं आ रहा था, न कंपनी का ही कोई अता-पता मिल रहा था, लेकिन यह पहली बार है कि किसी ने सामने आकर कहा है कि कंपनियां असली हैं और चंदा उसने दिया है. मुकेश ने बताया कि उनकी ये कंपनियां क़र्ज़ लेने-देने या जमीन की खरीद-फरोख्त का काम करती हैं और बीते दो साल से उनकी 4 कंपनी Sky line metal & alloy Pvt LTD,Sunvision agencies Pvt LTD,Infolense software solutions LTD,Goldmine & buildcon Pvt LTD की जांच जारी है.

You May Also Like

English News