कपिल से तुलना पर पंड्या का जवाब, अपनी पहचान के साथ ही खुश हूं

भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पंड्या का कहना है कि वह दिग्गजों में शुमार कपिल देव से अपनी तुलना नहीं करना चाहते. ‘ईएसपीएन’ की रिपोर्ट के अनुसार हार्दिक चाहते हैं कि दुनिया उन्हें उनके नाम से ही जाने और वह कपिल नहीं बनना चाहते.कपिल से तुलना पर पंड्या का जवाब, अपनी पहचान के साथ ही खुश हूं

इंग्लैंड के खिलाफ हार्दिक ने दूसरे दिन 28 रन देकर मेजबान टीम की पहली पारी में पांच विकेट चटकाए थे. ऐसे में दूसरे दिन अपने प्रदर्शन के बाद पंड्या ने कहा कि वह अन्य खिलाड़ियों के साथ अपनी तुलना से थक गए हैं.

हार्दिक ने कहा, ‘सबसे बड़ी समस्या यह है कि आप एक खिलाड़ी की तुलना दूसरे से करते हो और अचानक अगर कुछ गलत हो जाता है, तो लोग कहते हैं कि अरे यह तो कपिल की तरह नहीं है. मैं कभी भी कपिल नहीं बनना चाहता. मुझे हार्दिक पंड्या ही रहने दें. मैं अपनी पहचान के साथ ही खुश हूं.’

भारतीय टीम के हरफनमौला खिलाड़ी ने कहा, ‘मैंने अब तक अपने करियर में 41 वनडे, 10 टेस्ट मैच खेले हैं और मैं अब भी हार्दिक ही हूं, कपिल नहीं हूं. उस युग में कई दिग्गज निकले. ऐसे में मुझे हार्दिक ही रहने दें. किसी और के साथ मेरी तुलना करना बंद करें. अगर आप मेरी तुलना बंद कर देंगे, तो मुझे खुशी होगी.’

You May Also Like

English News