कप्तान स्मिथ ने किया स्वीकार, पहले मैच में उनकी योजनाएं धरी की धरी रह गईं…

ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने स्वीकार किया है कि पहले वनडे के दौरान उनकी योजनाएं धरी की धरी रह गईं. हालांकि उन्होंने सीरीज के बाकी मैचों में मजबूत वापसी का वादा किया है. स्मिथ ने मैच के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘अगर हम मैच जीतते तो अच्छा होता, लेकिन यह पांच मैचों की सीरीज के अभी चार मैच बाकी बचे हैं.’कप्तान स्मिथ ने किया स्वीकार, पहले मैच में उनकी योजनाएं धरी की धरी रह गईं...इस भारतीय खिलाड़ी ने चेन्नई में किया कुछ ऐसा, कि उनका बीमार फैंस खुश होकर मैच देखा

कुछ दिनों के भीतर हमें कड़ी वापसी करनी होगी

स्मिथ ने कहा, ‘सीरीज जीतने के लिए हमें तीन मैच जीतने होंगे कुछ दिनों के भीतर हमें कड़ी वापसी करनी होगी. उम्मीद करते हैं कि हम कोलकाता में चीजों को बदल पाएंगे.हमें अपनी योजनाओं के साथ बेहतर होना होगा.’ उन्होंने कहा, ‘बारिश आई और बेशक नई गेंदों के साथ 160 रनों के लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं होता. हम थोड़ा अलग तरीके से खेल सकते थे और शुरुआत में कुछ समय ले सकते थे.’

हमारी अच्छी शुरुआत पर धोनी- हार्दिक भारी पड़े 

डकवर्थ लुईस पद्धति के तहत भारत के 21 ओवर में 164 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई टीम को 26 रन से शिकस्त का सामना करना पड़ा. स्मिथ ने कहा, उन्होंने (पंड्या और धोनी) 118  रन जोड़े और टीम को 87 से 205 रन तक ले गए. अंत में यह मैच विजयी साझेदारी साबित हुई. हमने नई गेंद से काफी अच्छी शुरुआत की, लेकिन एमएस धोनी और हार्दिक काफी अच्छा खेले.

…कुछ गलतियों का भी कप्तान स्मिथ को मलाल

स्मिथ को टीम के द्वारा की गई कुछ गलतियों का मलाल है जिसमें उनका स्वयं कैच छोड़ना भी शामिल है. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान का मानना है कि खराब मौसम के कारण ओवरों की संख्या कम होने से उनकी टीम की संभावनाओं पर असर पड़ा. जब दोनों छोर से दो नई गेंदें होती हैं, तो उन्हें खेलना मुश्किल होता है. उन्हें भी इससे परेशानी हुई. हमारे साथ भी ऐसा ही था.

You May Also Like

English News