कब्र‍िस्तान में भी एक दूसरे के बेहद करीब हैं मीना कुमारी और कमाल अमरोही, जानिए इनके निजी जिंदगी के बारे में..

हिन्दी सिनेमा के शानदार फिल्ममेकर्स की फेहरि‍स्त में शामिल कमाल अमरोही का आज जन्मदिन है. 17 जनवरी 1918 में यूपी के अमरोहा में जन्मे इस कलाकार ने हिन्दी फिल्म जगत को महल (1949), पाकीजा (1972) , रजिया सुल्तान (1983) जैसी बेहतरीन फिल्में दी. इंडस्ट्री में कमाल अमरोही की जितनी चर्चा फिल्मों को लेकर में रहीं उतनी ही उनकी निजी जिंदगी भी लोगों के बीच छाई रही.कब्र‍िस्तान में भी एक दूसरे के बेहद करीब हैं मीना कुमारी और कमाल अमरोही, जानिए इनके निजी जिंदगी के बारे में..
निजी जिंदगी में अपने लव अफेयर को लेकर कमाल छाए रहे. अपने जमाने की शानदार अदाकारा मीना कुमारी संग उनकी मोहब्ब्त, फिर शादी और फिर जुदाई की खबरों ने सुर्खि‍यां बंटोरी.

 

कमाल अमरोही की मीना कुमारी से मुलाकात फिल्म तमाशा की शूटिंग के दौरान हुई थी. कमाल मीना के साथ कुछ मुलाकातों के बाद ही उन्हके दिल दे बैठे थे वह मीना से शादी करना चाहते थे. कमाल ने अपने दोस्‍त और मैनेजर के हाथ मीना कुमारी के लिए पैगाम भेजकर शादी का प्रपोजल दिया.
 

मीना ने कमाल से प्‍यार की बात तो मानी, पर शादी से इनकार कर दिया. लेकिन कमाल के दोस्त ने मीना को कमाल से शादी करने के लिए जैसे तैसे मना ही लिया. इस तरह‍ 14 फरवरी, 1952 को दोनों का निकाह हो गया. ये कमाल अमरोही की तीसरी शादी थी.
 

कमाल अमरोही और मीना कुमारी की लव स्टोरी बेहद दिलचस्प थी. कमाल मीना कुमारी को जिस फिल्‍म के लिए साइन किया, वह तो कभी नहीं बन पाई, लेकिन दोनों के बीच प्‍यार जरूर पनप गया. पहले से शादीशुदा अमरोही उनके प्‍यार में पागल हो गए.
 

लेकिन फिर इस प्यार भरी दास्तां में एक ऐसा मोड़ आया कि कमाल और मीना कुमारी ने एक दूसरे से किनारा कर लिया. दोनों के बीच ऐसे अनबन हुई कि फिर कभी दोनों को साथ देखना नसीब नहीं हुआ. मीना कुमारी की मौत के 20 साल बाद कमाल अमरोही भी 11 फरवरी 1993 को दुनिया से रुखसत हो गए. कमाल अमरोही को उसी कब्रि‍स्तान में दफनाया गया जहां मीना कुमारी की कब्र थी. यहां तक की कमाल अमरोही को मीना कुमारी की कब्र के साथ ही दफनाया गया. ये कब्रगाह मुंबई में ईरानियों के कब्रिस्तान रेहमतबाद कब्रि‍स्तान में मौजूद है.

You May Also Like

English News