कभी ना करें इन 3 सिचुएशन में ATM का इस्तेमाल, नहीं तो हो जायेंगे साइबर क्राइम का श‌िकार

नोटबंदी के बाद से देश की जनता बड़ी मात्रा में पैसे निकालने के लिए एटीएम का इस्तेमाल करने लगी है। ऐसे में एटीएम द्वारा फ्रॉड और साइबर क्राइम की संभावनाएं भी बढ़ गई हैं। कई आंकड़े बताते हैं कि नोटबंदी के बाद एटीएम ठगी व साइबर क्राइम बढ़े हैं। अगर आप सचेत न रहें तो आपकी एक छोटी सी गलती भी आपको बड़ी चोट दे सकती है। कभी ना करें इन 3 सिचुएशन में ATM का इस्तेमाल, नहीं तो हो जायेंगे साइबर क्राइम का श‌िकार

Lamborghini: दुनिया की सबसे तेज एसयूवी कार हुई लॉच, जानिए फीर्चस और दाम

ग्राहकों की इन्हीं बढ़ती परेशानियों को देखते हुए देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई ने एटीएम ठगी व साइबर क्राइम से बचने के 3 उपाय बताए हैं। एसबीआई बैंक ने बताया कि किन ‌तीन परिस्थितियों में एटीएम से पैसे निकालने से बिल्कुल बचना चाहिए। 

1- जब ज्यादा भीड़भाड़ होः एसबीआई के मुताबिक जब एटीएम के अंदर-बाहर ज्यादा भीड़ हो तो पैसे निकालने से बचना चाहिए। भीड़भाड़ के दौरान एटीएम पिन चोरी, कार्ड क्लोनिंग, एटीएम कार्ड चोरी या अन्य तरह की घटनाएं होने की संभावना बढ़ जाती है। 

2- जब एटीएम में कोई अलग से डिवाइस लगा दिखे : एसबीआई ने बताया है कि साइबर क्राइम से बचने के लिए एक बार एटीएम पर नजर जरूर दौड़ा लें। अगर एटीएम मशीन में कोई अजीब या अलग मशीन अथवा डिवाइस लगा दिखाई दे तो समझ लें कि कुछ गड़बड़ है। ऐसे एटीएम से पैसे निकालने से बचें। 

3- जब एटीएम में पैसे ना हों : एसबीआई ने अपने ट्वीट में ये भी कहा है‌ कि अगर एटीएम में पैसे ना हों तो भी लेनदेन नहीं करना चाहिए। आप सोच रहे होंगे कि यदि पैसे नहीं हैं तो आप क्यों एटीएम से लेनदेन करेंगे। लेकिन कई बार लोग अपना बैलेंस ही चेक करने लगते हैं लेकिन सलाह है कि ज‌िन एटीएम में पैसे ना हों उसने आप ये काम भी ना करें। 

इसके साथ ही हमेशा एटीएम से बाहर जाने से पहले यह ध्यान रखें कि आप जो ट्रांजेक्शन कर रहे थे वह पूरी हुई कि नहीं। ट्रांजेक्शन पूरी होने के बाद कैंस‌ल बटन दो बार दबाकर ही बाहर निकलें।

You May Also Like

English News