कभी साइकिल पर बेचता था गुटखा, चार करोड़ रुपये के साथ हुआ गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग के समीप शुक्रवार की रात अपनी कार से चार करोड़ रुपये ले जा रहे शहर के गुटखा व्यवसायी अजय गुप्ता को गिरफ्तार किया गया। व्यवसायी के पास से भारी रकम बरामद होने के बाद पुलिस व आयकर विभाग ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। शुक्रवार की देर रात बंगाल पुलिस ने स्थानीय पुलिस को गिरफ्तारी की सूचना दी। आयकर विभाग को इस मामले में जांच का निर्देश दिया गया है। दूसरे दिन भी बंगाल पुलिस व्यवसायी से पूछताछ कर रही है।

डेढ़ दशक में अर्जित की अकूत संपत्ति

डेढ़ दशक में व्यवसायी अजय ने गुटखा व पान मसाला के व्यवसाय से अकूत धन अर्जित की है। शहर के विनोदपुर एवं मंगलबाजार में गुटखा व्यवसायी के आलीशान मकान और विवाह भवन भी हैं। रियल इस्टेट एवं जमीन की खरीद बिक्री में भी व्यवसायी ने करोड़ों का निवेश कर रखा है।

दो दशक पूर्व तक अजय साइकिल से पान मसाला व गुटखा का खुदरा व्यापार करते थे। कानपुर की एक ब्रांडेड पान मसाला कंपनी में काम करने वाले अपने रिश्तेदार की सिफारिश पर उन्हें संबंधित पान मसाला कंपनी का थोक विक्रेता बना दिया गया। देखते ही देखते कोसी व सीमांचल के जिले में पान मसाला व गुटखा के कारोबार का जाना पहचाना चेहरा बन गया है।

आखिर कहां से मिले थे यह रुपये, चल रही जांच

बंगाल पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि आखिर व्यवसायी ये चार करोड़ रुपये कहां से लाया है। व्यवसायी ने बंगाल के कई गुटखा व्यवसायियों से कारोबार के सिलसिले में टैक्स से बचने के लिए नकद में रुपये लेने की बात कही है। बंगाल पुलिस उन व्यवसायियों से पूछताछ में जुटी है। मामले की गहराई से जांच की जाए तो टैक्स चोरी कर करोड़ों की संपत्ति अर्जित करने का खुलासा हो सकता है।

You May Also Like

English News