कमरे में छात्रा के साथ गंदा काम कर रहा था टीचर, दरवाजा खुला तो सामने आया सच!

परैया: गया के परैया ब्लॉक में मिडिल स्कूल सोनवर्षा के एक टीचर ने आठवीं की छात्रा से रेप किया।

सोमवार को आरोपित टीचर की स्कूल में ही ग्रामीणों ने बांध कर पिटाई की और उसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। घटना पिछले शुक्रवार की है और पीड़िता महादलित फैमिली की है। टीचर शिव कुमार ने इस घटना को तब अंजाम दिया जब स्कूल के बाकी टीचर छुट्टी पर थे और आरोपी के अलावा एक अन्य टीचर नवीन कुमार ही मौजूद थे। 

कमरे में छात्रा के साथ गंदा काम कर रहा था टीचर, दरवाजा खुला तो सामने आया सच!

पीड़ित 14 वर्षीय छात्रा के अनुसार स्कूल के खाली नवनिर्मित बिल्डिंग में टीचर ने इस शर्मनाक घटना को दिन में 11 बजे अंजाम दिया। आरोपित टीचर ने छात्रा से गोंद लेकर नवनिर्मित बिल्डिंग में आने के लिए कहा। जिस समय छात्रा को टीचर ने बुलाया नवनिर्मित बिल्डिंग खाली था। छात्रा को एक कमरे में ले जाकर दरवाजा बंद कर घटना को अंजाम दिया। घटना को स्कूल का तीसरी कक्षा का स्टूडेंट ने भी देखा जो अचानक उस कमरे में दरवाजा खोल कर आ गया। उस स्टूडेंट को टीचर ने डांटकर इस घटना को किसी को नहीं बतलाने और बतलाने पर पिटाई करने की धमकी दी। बहरहाल पुलिस ने छात्रा को मेडिकल चेकअप के लिए गया भेज दिया है और आरोपित टीचर से पूछताछ कर रही है।

दो वर्षों से टीचर है कार्यरत, नशा करने का भी लगा है आरोप
छात्रा से दुष्कर्म का आरोपित टीचर शिव कुमार पूर्व जिला पार्षद अवंती कुमारी का हसबैंड है। वह इस स्कूल में लगभग दो वर्षों से कार्यरत है। प्राइमरी स्कूल से मिडिल स्कूल के रूप में उत्क्रमित होने के बाद इसे यहां पदस्थापित किया गया था। आरोपित टीचर ने ही स्कूल में नवनिर्मित बिल्डिंग का निर्माण कराया है। इस घटना के बाद गांव के सभी ग्रामीण हतप्रभ हैं। घटना की जानकारी ग्रामीणों को शुक्रवार की शाम ही हुई थी और सभी शनिवार को स्कूल पहुंचे थे। शनिवार को प्रभारी और आरोपित टीचर स्कूल आकर तुरंत कहीं चले गए थे। सोमवार को ग्रामीण फिर स्कूल पहुंचे और आरोपित टीचर की बांधकर पिटाई की। स्कूल में सैंकड़ों की संख्या में ग्रामीण पहुंचे थे और पूरे दिन स्कूल में हंगामा होता रहा। तभी हंगामे की खबर थाने को मिली और थानाध्यक्ष अखिलेश कुमार सिंह ने वहां पहुंचकर स्थिति को नियंत्रित किया।

बच्चों से ताड़ी मंगाकर पीने का भी लगा है आरोप
टीचर शिवकुमार पर इससे पहले स्कूल के बच्चों से ताड़ी मंगाकर स्कूल में ही पीने का आरोप लग चुका है। इस मामले में भी ग्रामीणों ने हंगामा किया था और स्कूल प्रशासन ने बैठक कर मामले को सुलझाया था। सोमवार को पुलिस ने रेप वाले मामले में पीड़िता का बयान गया कोर्ट में दर्ज करवाया। पीड़ित किशोरी के साथ उनके परिजनों ने भी कोर्ट में बयान देकर मामले में इंसाफ की मांग की है।

क्या कहते हैं स्कूल के प्रभारी
स्कूल प्रभारी युगल किशोर सिंह ने कहा है कि वे घटना के दिन अवकाश पर थे। शनिवार को कार्यालय कार्य के बाद स्कूल आए तो ग्रामीणों ने उनको इस घटना की जानकारी दी थी। वहीं पीड़ित छात्रा के पिता ने कहा कि आज मेरे जैसे महादलित की सुनने वाला कोई नहीं है। देखना यही है की अब कैसे मेरी बच्ची को इंसाफ मिलता है।

You May Also Like

English News