कमलनाथ प्रदेश को छिंदवाड़ा न समझें- प्रभात झा

चुनाव आयोग द्वारा मध्यप्रदेश में 60 लाख फर्जी मतदाता होने की कांग्रेस की शिकायत ठुकरा दिए जाने के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने मौका ताड़ते हुए कांग्रेस नेताओं से माफी मांगने की बात कही है. मगर कांग्रेस ने कहा है कि वह अपने आरोप पर कायम है. कांग्रेस का आरोप है कि चुनाव आयोग की टीम ने शिकायतकर्ता का पक्ष सुने बिना और दस्तावेज देखे बिना ही एकतरफा फैसला कर लिया है. शिकायत के आधार पर चुनाव आयोग ने जांच कराई और शुक्रवार को आयोग के सचिव ने कांग्रेस के आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में फर्जी मतदाता नहीं हैं.चुनाव आयोग द्वारा मध्यप्रदेश में 60 लाख फर्जी मतदाता होने की कांग्रेस की शिकायत ठुकरा दिए जाने के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने मौका ताड़ते हुए कांग्रेस नेताओं से माफी मांगने की बात कही है. मगर कांग्रेस ने कहा है कि वह अपने आरोप पर कायम है. कांग्रेस का आरोप है कि चुनाव आयोग की टीम ने शिकायतकर्ता का पक्ष सुने बिना और दस्तावेज देखे बिना ही एकतरफा फैसला कर लिया है. शिकायत के आधार पर चुनाव आयोग ने जांच कराई और शुक्रवार को आयोग के सचिव ने कांग्रेस के आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में फर्जी मतदाता नहीं हैं.  बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य प्रभात झा ने भोपाल में मीडिया से कहा, 'कांग्रेस के नेताओं ने यह आरोप लगाकर मध्यप्रदेश के 7 करोड़ लोगों का अपमान किया है. उन्हें तत्काल प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए.’ झा ने कहा कि कांग्रेस नेताओं के आरोप से पूरे देश में मध्यप्रदेश की बदनामी हुई है. अब वह बताएं कि उन्होंने किस आधार पर यह आरोप लगाए थे. झा ने यह आरोप भी लगाया कि कांग्रेस चुनावी साल में चुनाव आयोग को हथियार बनाने और बदनाम करने की कोशिश करेगी.  झा ने कहा कि कांग्रेस को कम से कम तथ्यों पर आधारित आरोप लगाने चाहिए. बीजेपी नेता ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को चेतावनी देते हुए कहा, 'वह प्रदेश को छिंदवाड़ा न समझें. हमने उन्हें एक बार वहां भी हराया था. अब फिर हराएंगे. कांग्रेस में जमीनी लड़ाई लड़ने की कूबत नहीं बचीं है, इसलिए इस तरह के आरोप लगा रही है

बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य प्रभात झा ने भोपाल में मीडिया से कहा, ‘कांग्रेस के नेताओं ने यह आरोप लगाकर मध्यप्रदेश के 7 करोड़ लोगों का अपमान किया है. उन्हें तत्काल प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए.’ झा ने कहा कि कांग्रेस नेताओं के आरोप से पूरे देश में मध्यप्रदेश की बदनामी हुई है. अब वह बताएं कि उन्होंने किस आधार पर यह आरोप लगाए थे. झा ने यह आरोप भी लगाया कि कांग्रेस चुनावी साल में चुनाव आयोग को हथियार बनाने और बदनाम करने की कोशिश करेगी.

झा ने कहा कि कांग्रेस को कम से कम तथ्यों पर आधारित आरोप लगाने चाहिए. बीजेपी नेता ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ को चेतावनी देते हुए कहा, ‘वह प्रदेश को छिंदवाड़ा न समझें. हमने उन्हें एक बार वहां भी हराया था. अब फिर हराएंगे. कांग्रेस में जमीनी लड़ाई लड़ने की कूबत नहीं बचीं है, इसलिए इस तरह के आरोप लगा रही है

You May Also Like

English News