दुखद : कमाई के लिए खरीदा गया असलहा बना मौत की वजह!

लखनऊ : एक सुरक्षा गार्ड के लिए उसको लाइसेंसी असलहा ही कमाई का जरिया होता है। पर वहीं असलहा अगर उसकी जान ले लें तो परिवार पर क्या बीतेगी कोई नहीं जानता है। ऐसी ही एक घटना घटी राजधानी के आशियाना इलाके में। यहां रहने वाले एक सुरक्षा गार्ड ने अपनी ही लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मार ली। गोली लगने से गार्ड की मौके पर ही मौत हो गयी। घटना के वक्त परिवार के लोग अपने-अपने काम से बाहर गये हुए थे। पुलिस का कहना है कि गार्ड ने अवसाद के चलते आत्महत्या की है।
गोरखपुर जनपद निवासी 50 वर्षीय सतीश पाण्डेय आशियाना के सेक्टर एम-1 ई में अपने परिवार के साथ रहता था। सतीश एक प्राइवेट सुरक्षा कम्पनी में बतौर गार्ड काम करता था। बताया जाता है कि मंगलवार की दोपहर सतीश अपने घर पर अकेला था। पत्नी, दो बेटियां व बेटा अपने काम पर गये हुए थे। इस बीच दोपहर करीब 2 बजे सतीश ने अपनी ही लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मार ली। गोली लगने से सतीश की मौके पर ही मौत हो गयी। गोली चलने की आवाज जब आसपास के लोगों ने सुनी तो वह लोग दौड़कर सतीश के घर पहुंचे तो देखा कि कमरे में सतीश का खून से लथपथ शव पड़ा था और पास में ही उसकी लाइसेंसी एक नाली बंदूक भी मौजूद थी।

 कमरे का मंजर देख लोग समझ गये कि सतीश ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। मोहल्ले वालों ने फौरन इस बात की सूचना आशियाना पुलिस व सतीश के परिवार वालों को दी। खबर पाकर सतीश के परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और वहां कोहराम मच गया। छानबीन के बाद आशियाना पुलिस ने सतीश के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त लाइसेंसी बंदूक अपने कब्जे में ले ली है। चौकी इंचार्ज रमबाई विनोद सिंह का कहना है कि गार्ड सतीश दो साल से अवसाद में था और उसका इलाज हो रहा था। इसी अवसाद के चलते उसने खुद को गोली मारकर जान दे दी।

You May Also Like

English News