कम्युनिस्ट पार्टी ने राज्यपालों की भूमिका पर सवाल उठाए

सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी और सीपीआई के सचिव अतुल अंजान ने राज्यपालों की भूमिका पर सवाल उठाते हुए इनके राजनीतिक दुरुपयोग का आरोप लगाया.उन्होंने भाजपा को सत्ता से बाहर करने को जरुरी बताया. यह बात उन्होंने जयपुर में मीडिया के सामने कही .सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी और सीपीआई के सचिव अतुल अंजान ने राज्यपालों की भूमिका पर सवाल उठाते हुए इनके राजनीतिक दुरुपयोग का आरोप लगाया.उन्होंने भाजपा को सत्ता से बाहर करने को जरुरी बताया. यह बात उन्होंने जयपुर में मीडिया के सामने कही .    जयपुर में सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी और सीपीआई के सचिव अतुल अंजान ने राज्यपालों की भूमिका लो लेकर आपत्ति ली.उन्होंने कहा कि कर्नाटक के राज्यपाल का इस्तेमाल जनादेश को हड़पने के लिए किया गया, वहीं दिल्ली में उपराज्यपाल चुनी हुई सरकार को काम नहीं करने दिया जा रहा है. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी और केरल में कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन नहीं होने लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर चुनाव के बाद गठबंधन के रास्ते खुले रखने के भी संकेत दिए.  उल्लेखनीय है कि केंद्र की भाजपा सरकार की आर्थिक मोर्चे पर असफलता का जिक्र करते हुए कहा कि आज देश में हर वर्ग के लोगों के जीवन में गिरावट आई सिवाय अमीरों को छोड़कर .भाजपा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण कर देश में नफरत फैला रही है.धर्मनिरपेक्ष वोटों का बंटवारा रोकने के लिए सभी दल एकजुट होकर भाजपा को हराएंगे.राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए अतुल अंजान ने समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन करने की इच्छा जाहिर की.

जयपुर में सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी और सीपीआई के सचिव अतुल अंजान ने राज्यपालों की भूमिका लो लेकर आपत्ति ली.उन्होंने कहा कि कर्नाटक के राज्यपाल का इस्तेमाल जनादेश को हड़पने के लिए किया गया, वहीं दिल्ली में उपराज्यपाल चुनी हुई सरकार को काम नहीं करने दिया जा रहा है. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी और केरल में कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व गठबंधन नहीं होने लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर चुनाव के बाद गठबंधन के रास्ते खुले रखने के भी संकेत दिए.

उल्लेखनीय है कि केंद्र की भाजपा सरकार की आर्थिक मोर्चे पर असफलता का जिक्र करते हुए कहा कि आज देश में हर वर्ग के लोगों के जीवन में गिरावट आई सिवाय अमीरों को छोड़कर .भाजपा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण कर देश में नफरत फैला रही है.धर्मनिरपेक्ष वोटों का बंटवारा रोकने के लिए सभी दल एकजुट होकर भाजपा को हराएंगे.राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए अतुल अंजान ने समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन करने की इच्छा जाहिर की.

You May Also Like

English News