कर्ज से तंग आकर किसान ने किया आत्महत्या करने की कोशिश, लेकिन इलाज के दौरान तोड़ा दिया दम..

झारखंड में कर्ज से तंग आकर किसान आत्महत्या कर रहे हैं. राजधानी रांची से सटे ओरमांझी इलाके में एक और किसान ने अपनी जान दे दी. बताया जा रहा है कि कर्ज वापसी के दबाव से तंग उन्होंने ये मजबूरन ये कदम उठाया.कर्ज से तंग आकर किसान ने किया आत्महत्या करने की कोशिश, लेकिन इलाज के दौरान तोड़ा दिया दम..कोर्ट के बाहर आते ही अपने ही भक्तों पर भड़क पड़े आसाराम…

पिछले एक महीने किसान आत्महत्या की ये चौथी घटना है. ओरमांझी इलाके के किसान राजदीप नायक कर्ज से इतना परेशान आ गया था कि उसने कीटनाशक पीकर मौत को गले लगा लिया. बताया जा रहा है कि राजदीप पर कर्ज वापसी के लिए बैंक दबाव बना रहा था. जिससे परेशान तीन दिन पहले उसने जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया था. इस घटना के बाद राजदीप को अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

90 हजार लिया था कर्ज

बीजांग हेंदेबिली गांव के रहने वाले राजदीप ने 2015 में बैंक से लोन किया था. राजदीप ने आईडीबीआई बैंक से फसल के लिए 90 हजार रुपये का लोन लिया था. इसके बाद राजदीप ने भाई प्रदीप नायक के नाम पर ट्रैक्टर खरीदने के लिए कर्ज लिया. मगर राजदीप कर्ज चुका पाने में नाकाम रहा और जान देने का कदम उठा लिया.

बैंक पर दबाव बनाने का आरोप

राजदीप के परिवार का आरोप है कि बैंक अधिकारी लगातार राजदीप पर पैसा वापसी का दबाव बना रहे थे. बैंक से 90 हजार रुपये जमा कराने का नोटिस आया था. जिसके बाद से राजदीप परेशान रहने लगा था.

बेनामी केस में छोड़ने पर लालू ने BJP को दिया था सरकार बनाने का ऑफर, जानिए क्या था मोदी का जवाब!

राजदीप के पास चार एकड़ जमीन थी. जिसमें वह सब्जी औ धान की खेती करता था. बीमार पड़ जाने के कारण वह खेती नहीं कर सका. इस वजह से फसल ठीक से नहीं हो पाई और वो बैंक की किस्त जमा नहीं कर पाया.

फिलहाल पुलिस ने केस दर्ज मामले की जांच शुरू कर दी है. वहीं दूसरी तरफ विपक्ष बीजेपी सरकार पर किसान की आत्महत्या को झुठलाने का आरोप लगा रहा है

You May Also Like

English News