कर्नाटक चुनाव प्रचार अधूरा छोड़ यूपी क्यों लौटे योगी ?

उत्तर प्रदेश में आये भीषण तूफान के कारण के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना कर्नाटक दौरा छोड़ दिया है. शुक्रवार रात आंधी तूफान ने सूबे में कोहराम मचाया जिसका सबसे ज्यादा असर आगरा पर हुआ है. चुनाव प्रचार के लिए योगी कर्नाटक के दौरे पर थे. उत्तर प्रदेश में तूफान से 73 लोगों की मौत और भारी नुकसान के बीच विपक्ष के वॉर जारी हो गए थे. इस पर प्रमुख सचिव (सूचना) अवनीश अवस्थी ने कहा, ‘आंधी-तूफान से प्रभावित आगरा जनपद में संचालित राहत कार्यों तथा इस आपदा से हुए नुकसान की सीधी जानकारी प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार रात्रि में आगरा पहुंचेंगे.’उत्तर प्रदेश में आये भीषण तूफान के कारण के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना कर्नाटक दौरा छोड़ दिया है. शुक्रवार रात आंधी तूफान ने सूबे में कोहराम मचाया जिसका सबसे ज्यादा असर आगरा पर हुआ है. चुनाव प्रचार के लिए योगी कर्नाटक के दौरे पर थे. उत्तर प्रदेश में तूफान से 73 लोगों की मौत और भारी नुकसान के बीच विपक्ष के वॉर जारी हो गए थे. इस पर प्रमुख सचिव (सूचना) अवनीश अवस्थी ने कहा, 'आंधी-तूफान से प्रभावित आगरा जनपद में संचालित राहत कार्यों तथा इस आपदा से हुए नुकसान की सीधी जानकारी प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार रात्रि में आगरा पहुंचेंगे.'  तूफान में आगरा के 43 लोगों की जान चली गई. यूपी सीएम ऑफिस के अधिकारियों ने बताया कि सीएम योगी शनिवार की सुबह तूफान से प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे. साथ ही वो कानपुर में राहत कार्य का भी जायजा लेंगे. इसके बाद मुख्यमंत्री वहां जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर जनपद में संचालित राहत एवं पुनर्वास कार्यों की समीक्षा करेंगे. सपा मुखिया अखिलेश यादव ने मारे गये लोगों के प्रति शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया था कि मुख्यमंत्री को कर्नाटक का चुनाव प्रचार छोड़कर तत्काल उत्तर प्रदेश लौट आना चाहिए. जनता ने उन्हें अपने राज्य की समस्याओं के समाधान के लिए चुना है, कर्नाटक की राजनीति के लिए नहीं. वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि काफी संख्या में लोगों की मौत के बावजूद प्रधानमंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अपने स्वार्थपूर्ण चुनावी हितों को पूरा करने के लिए कर्नाटक के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं. राज्य में आये तेज आंधी तूफान में 73 लोगों की मौत हो गयी जबकि 91 अन्य घायल हो गये. सबसे बुरी तरह आगरा प्रभावित हुआ, जहां 43 लोगों की मौत हुई और 51 अन्य घायल हुए. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री द्वारा आपदा प्रभावित जनपदों के अधिकारियों को राहत कार्य प्रभावी रूप से संचालित करने, घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित कराने तथा पीड़ितों को हर सम्भव मदद उपलब्ध कराने के निर्देश पूर्व में दिए जा चुके हैं. इससे पहले योगी के कर्नाटक पहुंचते ही विपक्षी नेताओं ने उन पर हमला करना शुरू कर दिया.

तूफान में आगरा के 43 लोगों की जान चली गई. यूपी सीएम ऑफिस के अधिकारियों ने बताया कि सीएम योगी शनिवार की सुबह तूफान से प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे. साथ ही वो कानपुर में राहत कार्य का भी जायजा लेंगे. इसके बाद मुख्यमंत्री वहां जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ बैठक कर जनपद में संचालित राहत एवं पुनर्वास कार्यों की समीक्षा करेंगे. सपा मुखिया अखिलेश यादव ने मारे गये लोगों के प्रति शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया था कि मुख्यमंत्री को कर्नाटक का चुनाव प्रचार छोड़कर तत्काल उत्तर प्रदेश लौट आना चाहिए. जनता ने उन्हें अपने राज्य की समस्याओं के समाधान के लिए चुना है, कर्नाटक की राजनीति के लिए नहीं. वहीं, बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि काफी संख्या में लोगों की मौत के बावजूद प्रधानमंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अपने स्वार्थपूर्ण चुनावी हितों को पूरा करने के लिए कर्नाटक के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं. राज्य में आये तेज आंधी तूफान में 73 लोगों की मौत हो गयी जबकि 91 अन्य घायल हो गये. सबसे बुरी तरह आगरा प्रभावित हुआ, जहां 43 लोगों की मौत हुई और 51 अन्य घायल हुए.
गौरतलब है कि मुख्यमंत्री द्वारा आपदा प्रभावित जनपदों के अधिकारियों को राहत कार्य प्रभावी रूप से संचालित करने, घायलों का समुचित इलाज सुनिश्चित कराने तथा पीड़ितों को हर सम्भव मदद उपलब्ध कराने के निर्देश पूर्व में दिए जा चुके हैं. इससे पहले योगी के कर्नाटक पहुंचते ही विपक्षी नेताओं ने उन पर हमला करना शुरू कर दिया.

You May Also Like

English News