कर्नाटक में अब शौचालय को लेकर घमासान

कर्नाटक में भाजपा और कांग्रेस के बीच चुनाव जीतने की जद्दोजहद जारी है. हर रोज नए मुद्दों को सामने लाया जा रहा है.इसी कड़ी में एक जंग सोशल मीडिया पर भी लड़ी जा रही है.गुरुवार को ट्विटर पर शौचालय के मुद्दे पर घमासान शुरू हो गया.कर्नाटक में भाजपा और कांग्रेस के बीच चुनाव जीतने की जद्दोजहद जारी है. हर रोज नए मुद्दों को सामने लाया जा रहा है.इसी कड़ी में एक जंग सोशल मीडिया पर भी लड़ी जा रही है.गुरुवार को ट्विटर पर शौचालय के मुद्दे पर घमासान शुरू हो गया.  बता दें कि बीजेपी के ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया गया कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के चार साल के शासनकाल में 350 करोड़ की लागत से सिर्फ 20 लाख घरों में शौचालयों का निर्माण हुआ . जबकि बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के चार साल के शासनकाल में 2100 करोड़ की लागत से 34 लाख शौचालयों का निर्माण कराया गया. इसीके साथ कर्नाटक में बीजेपी के सत्ता में आने पर राज्य का तेजी से विकास होने का वादा भी किया गया है.  जबकि दूसरी ओर इस ट्वीट पर कांग्रेस ने जवाब में लिखा कि यूपीए शासनकाल में एक शौचालय में 1750 रुपये का खर्च आता था, जोकि बीजेपी के शासनकाल में यह बढ़कर 6177 रुपये पहुंचने की जानकारी देते हुए तंज कसा कि छोटा मोदी+ बड़ा मोदी = स्‍वच्‍छ भारत. इसके बाद बीजेपी ने भी एक बार फिर ट्वीट किया कि कांग्रेस अपने ज्ञान के स्तर को उतना कम मत करिए, जितना आपके अध्यक्ष का है. केंद्र सरकार ने कर्नाटक सरकार को शौचालय बनाने के लिए 2100 करोड़ रुपये दिये थे. यदि पर्याप्त शौचालय नहीं बने तो सिद्धरुपैया जी से पूछिए.

बता दें कि बीजेपी के ट्विटर हैंडल पर ट्वीट किया गया कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के चार साल के शासनकाल में 350 करोड़ की लागत से सिर्फ 20 लाख घरों में शौचालयों का निर्माण हुआ . जबकि बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के चार साल के शासनकाल में 2100 करोड़ की लागत से 34 लाख शौचालयों का निर्माण कराया गया. इसीके साथ कर्नाटक में बीजेपी के सत्ता में आने पर राज्य का तेजी से विकास होने का वादा भी किया गया है.

जबकि दूसरी ओर इस ट्वीट पर कांग्रेस ने जवाब में लिखा कि यूपीए शासनकाल में एक शौचालय में 1750 रुपये का खर्च आता था, जोकि बीजेपी के शासनकाल में यह बढ़कर 6177 रुपये पहुंचने की जानकारी देते हुए तंज कसा कि छोटा मोदी+ बड़ा मोदी = स्‍वच्‍छ भारत. इसके बाद बीजेपी ने भी एक बार फिर ट्वीट किया कि कांग्रेस अपने ज्ञान के स्तर को उतना कम मत करिए, जितना आपके अध्यक्ष का है. केंद्र सरकार ने कर्नाटक सरकार को शौचालय बनाने के लिए 2100 करोड़ रुपये दिये थे. यदि पर्याप्त शौचालय नहीं बने तो सिद्धरुपैया जी से पूछिए.

You May Also Like

English News