कर्नाटक में आठवीं पास विधायक को बनाया उच्च शिक्षा मंत्री

इसे शिक्षा की उपेक्षा कहें या मंत्री पद के लिए अनिवार्य शिक्षा का अभाव, कि कर्नाटक में सीएम एचडी कुमारस्वामी ने शिक्षा के महत्त्व को ठेंगा दिखाते हुए जेडीएस के आठवीं पास विधायक जीटी देवेगौड़ा को उच्च शिक्षा मंत्री बना दिया है. सवाल उठने पर सीएम कुमारस्वामी ने खुद की शिक्षा का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री बनने की बात कह दी.इसे शिक्षा की उपेक्षा कहें या मंत्री पद के लिए अनिवार्य शिक्षा का अभाव, कि कर्नाटक में सीएम एचडी कुमारस्वामी ने शिक्षा के महत्त्व को ठेंगा दिखाते हुए जेडीएस के आठवीं पास विधायक जीटी देवेगौड़ा को उच्च शिक्षा मंत्री बना दिया है. सवाल उठने पर सीएम कुमारस्वामी ने खुद की शिक्षा का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री बनने की बात कह दी.    आपको बता दें कि विभागों के बंटवारे से दो मंत्री नाराज बताए जा रहे हैं. जीटी देवेगौड़ा ने मैसुरु जिले में चामुंडेश्वरी विधानसभा क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को हराया था .इसलिए उनकी अपेक्षा थी कि उन्हें और अच्छा विभाग मिलेगा. उधर दूसरे मंत्री सीएस पुत्ताराजू भी नाराज हैं. इस पर सीएम कुमारस्वामी का कहना है कि पहले तो मंत्री बनने की इच्छा होती है और फिर खास विभाग पाने की इच्छा आम है.लेकिन सभी विभागों में प्रभावी तरीके से काम करने का मौका मिलता है .उच्च शिक्षा और लघु सिंचाई भी अच्छे विभाग हैं.    उल्लेखनीय है कि जीटी देवेगौड़ा तथा सीएस पुत्ताराजू के समर्थक अपने जिलों मैसुरु और मांड्या से अपने नेता के लिए मनचाहा विभाग पाने के लिए प्रदर्शन करेंगे. बता दें कि विगत छह जून को मुख्यमंत्री ने 25 नए मंत्रियों को सरकार में शामिल किया था. वित्त और ऊर्जा विभाग सीएम ने अपने पास रखें हैं , जबकि गृह विभाग डिप्टी जी. परमेश्वर (कांग्रेस) को दिया है.

आपको बता दें कि विभागों के बंटवारे से दो मंत्री नाराज बताए जा रहे हैं. जीटी देवेगौड़ा ने मैसुरु जिले में चामुंडेश्वरी विधानसभा क्षेत्र में पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया को हराया था .इसलिए उनकी अपेक्षा थी कि उन्हें और अच्छा विभाग मिलेगा. उधर दूसरे मंत्री सीएस पुत्ताराजू भी नाराज हैं. इस पर सीएम कुमारस्वामी का कहना है कि पहले तो मंत्री बनने की इच्छा होती है और फिर खास विभाग पाने की इच्छा आम है.लेकिन सभी विभागों में प्रभावी तरीके से काम करने का मौका मिलता है .उच्च शिक्षा और लघु सिंचाई भी अच्छे विभाग हैं.

उल्लेखनीय है कि जीटी देवेगौड़ा तथा सीएस पुत्ताराजू के समर्थक अपने जिलों मैसुरु और मांड्या से अपने नेता के लिए मनचाहा विभाग पाने के लिए प्रदर्शन करेंगे. बता दें कि विगत छह जून को मुख्यमंत्री ने 25 नए मंत्रियों को सरकार में शामिल किया था. वित्त और ऊर्जा विभाग सीएम ने अपने पास रखें हैं , जबकि गृह विभाग डिप्टी जी. परमेश्वर (कांग्रेस) को दिया है.

You May Also Like

English News