कर्नाटक में जेडीयू ने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की

 कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने मंगलवार को 12 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की.इसमें जेडीयू ने विजयनगर से विजय कुमार को और महादेवपुरा विधानसभा से श्रीनिवास को उम्मीदवार बनाया गया है.पार्टी यहां अकेले ही चुनाव लड़ेगी.बिहार : कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने मंगलवार को 12 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की.इसमें जेडीयू ने विजयनगर से विजय कुमार को और महादेवपुरा विधानसभा से श्रीनिवास को उम्मीदवार बनाया गया है.पार्टी यहां अकेले ही चुनाव लड़ेगी.  इस बारे में जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष महिमा जे पटेल ने बताया कि जेडीयू कर्नाटक की सभी 224 सीटों पर अकेली चुनाव लड़ेगी.उम्मीदवारों की जारी दो सूची में 27 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी गई है.जबकि जेडीयू के राष्ट्रीय महसचिव संजय झा ने कहा कि हम राज्य में अपनी पार्टी को पुनर्जीवित करने का प्रयास कर रहे हैं.हालाँकि इसका बिहार में बीजेपी के साथ हुए गठबंधन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा.  उल्लेखनीय है कि कर्नाटक की 224 विधान सभा सीटों के लिए 12 मई को मतदान होगा .जबकि चुनाव के नतीजे 15 मई को आएंगे.वर्तमान में यहां कांग्रेस की सरकार है और सिद्धारमैया मुख्यमंत्री हैं. यहां मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है.भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इस राज्य को हथियाने के लिए खूब जोर लगा रहे हैं , जबकि कर्नाटक में अपनी सत्ता बचाने के लिए राहुल गाँधी भी यहां लगातार दौरे कर रहे हैं.इस विधान सभा का कार्यकाल 28 मई को समाप्त हो रहा है.

इस बारे में जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष महिमा जे पटेल ने बताया कि जेडीयू कर्नाटक की सभी 224 सीटों पर अकेली चुनाव लड़ेगी.उम्मीदवारों की जारी दो सूची में 27 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी गई है.जबकि जेडीयू के राष्ट्रीय महसचिव संजय झा ने कहा कि हम राज्य में अपनी पार्टी को पुनर्जीवित करने का प्रयास कर रहे हैं.हालाँकि इसका बिहार में बीजेपी के साथ हुए गठबंधन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक की 224 विधान सभा सीटों के लिए 12 मई को मतदान होगा .जबकि चुनाव के नतीजे 15 मई को आएंगे.वर्तमान में यहां कांग्रेस की सरकार है और सिद्धारमैया मुख्यमंत्री हैं. यहां मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है.भाजपा अध्यक्ष अमित शाह इस राज्य को हथियाने के लिए खूब जोर लगा रहे हैं , जबकि कर्नाटक में अपनी सत्ता बचाने के लिए राहुल गाँधी भी यहां लगातार दौरे कर रहे हैं.इस विधान सभा का कार्यकाल 28 मई को समाप्त हो रहा है.

You May Also Like

English News