कर्नाटक में येदियुरप्पा के शपथ लेने को मायावती व अखिलेश ने बताया अलोकतांत्रिक

कर्नाटक में चल रहे सियासी ड्रामे के बीच आज सुबह बीएस येद्दयुरप्पा को राज्यपाल वजुभाई वाला ने मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। उनके पदक लेने को समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ ही बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने अलोकतांत्रिक बताया है।अखिलेश ने लिखा है कि आज फिर लोकतंत्र की शपथ ली जाएगी। आज फिर एक बार और हत्या की जाएगी। आज फिर सत्ता की हनक दिखाई जाएगी। आज फिर जमीर की मंडी सजाई जाएगी। आज फिर आजादी थोड़ी और मर जाएगी।  इनके साथ ही कांग्रेस और जेडीएस पहले ही भाजपा के इस कदम को लोकतंत्र की हत्या बताया है। राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर देश विभिन्न संवैधानिक संस्थाओं को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आरएसएस देश की हर संस्था में आरएसएस घुसपैठ कर रहा है। देश के संविधान पर आज हमला हो रहा है। इससे पहले भी ऐसा पहले कई देशों में हुआ।  गौरतलब है कि कर्नाटक में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। ऐसे में प्रदेश की 224 सदस्यीय विधानसभा में 222 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें मिली है। यहां पर फिलहाल, बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 112 है।

मायावती ने येद्दयुरप्पा के शपथ लेने के बाद कहा कि भाजपा इस कदम को आगे बढ़ाकर संविधान को बर्बाद करने की साजिश रच रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा जब से सत्ता में आई है तब से लगातार लोकतंत्र पर हमले करने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग कर रही है। मायावती ने कहा कि भाजपा अब तो बाबा साहेब आंबेडकर रचित संविधान को बर्बाद करने की साजिश रच रही है।

इससे पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी एक ट्वीट कर येद्दयुरप्पा के शपथ ग्रहण पर निशाना साधा। उन्होंने बिना किसी का नाम लिए येद्दयुरप्पा के शपथ को लोकतंत्र की हत्या करार दिया है। साथ ही उन्होंने कर्नाटक के ताजा घटनाक्रम को इशारों में इसे सत्ता की हनक और जमीर की मंडी सजाने जैसी संज्ञा दी है।

अखिलेश ने लिखा है कि आज फिर लोकतंत्र की शपथ ली जाएगी। आज फिर एक बार और हत्या की जाएगी। आज फिर सत्ता की हनक दिखाई जाएगी। आज फिर जमीर की मंडी सजाई जाएगी। आज फिर आजादी थोड़ी और मर जाएगी।

इनके साथ ही कांग्रेस और जेडीएस पहले ही भाजपा के इस कदम को लोकतंत्र की हत्या बताया है। राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी पर देश विभिन्न संवैधानिक संस्थाओं को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आरएसएस देश की हर संस्था में आरएसएस घुसपैठ कर रहा है। देश के संविधान पर आज हमला हो रहा है। इससे पहले भी ऐसा पहले कई देशों में हुआ।

गौरतलब है कि कर्नाटक में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। ऐसे में प्रदेश की 224 सदस्यीय विधानसभा में 222 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा को 104, कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें मिली है। यहां पर फिलहाल, बहुमत के लिए जादुई आंकड़ा 112 है।

You May Also Like

English News