कर्नाटक में लिंगायत पर जंग जारी, आज सिद्धगंगा मठ जाएंगे राहुल गांधी

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नज़दीक आ रही है वैसे ही राजनीतिक लड़ाई तेज होती जा रही है. चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा लिंगायत समुदाय का उभरा है, इस बीच मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने इस पर अपना रुख साफ कर दिया है. शाह ने साफ कहा कि केंद्र सरकार राज्य की सिद्धारमैया सरकार के इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं देगी.कर्नाटक में विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे-जैसे नज़दीक आ रही है वैसे ही राजनीतिक लड़ाई तेज होती जा रही है. चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा लिंगायत समुदाय का उभरा है, इस बीच मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने इस पर अपना रुख साफ कर दिया है. शाह ने साफ कहा कि केंद्र सरकार राज्य की सिद्धारमैया सरकार के इस प्रस्ताव को मंजूरी नहीं देगी. इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने कर्नाटक दौरे के दूसरे दिन आज टुमकुर मठ का दौरा करेंगे. यहां वे सिद्धगंगा मठ के 111 वर्षीय शिवकुमार स्वामी से मुलाकात करेंगे. इसके अलावा राहुल गांधी आज चित्रदुर्ग जिले का दौरा करेंगे. ये जिला लिंगायत समुदाय का गढ़ माना जाता है. आपको बता दें कि राहुल जिन स्वामी से आज मुलाकात करेंगे उन्होंने लिंगायत समुदाय को अलग धर्म का दर्जा देने के फैसले का स्वागत किया था. आज का राहुल का दौरा - - देवानगरे में कर्मचारियों से मुलाकात. - देवानगरे में ट्रेडर्स से मुलाकात. - चित्रदुर्ग में रैली - सिद्धगंगा मठ का दौरा. - टुमकुर में कार्यक्रम. - रामनगर में रैली. क्या कहा अमित शाह ने? मंगलवार को अपने कर्नाटक दौरे के दौरान BJP अध्यक्ष अमित शाह ने महंतों के सामने बड़ा ऐलान किया था. उन्होंने लिंगायत और वीरशैव लिंगायत को धार्मिक अल्‍पसंख्‍यकों का दर्जा देने के कदम को हिंदुओं को बांटने वाला बताया था. शाह ने कहा कि मैं ये भरोसा दिलाता हूं कि इसे बंटने नहीं दिया जाएगा. जब तक बीजेपी है कोई बंटवारा नहीं होगा. हम इसको लेकर प्रतिबद्ध हैं. अमित शाह ने वीरशैव लिंगायत के महंतों से कहा, 'लिंगायत समुदाय को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देने की राज्‍य सरकार की सिफारिश को केंद्र सरकार नहीं मानेगी.' 12 मई को वोटिंग, 15 को गिनती आपको बता दें कि 225 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा के लिए 224 सीटों पर एक ही चरण में मतदान होगा. 1 सीट पर एंग्लो-इंडियन समुदाय के सदस्य को मनोनीत किया जाता है. कर्नाटक में 12 मई को वोट डाले जाएंगे और 15 मई को वोटों की गिनती होगी. चुनाव आयोग के मुताबिक 17 अप्रैल से 24 अप्रैल तक नामांकन भरे जाएंगे. इसके बाद 25 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, जिसके बाद 27 अप्रैल तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने कर्नाटक दौरे के दूसरे दिन आज टुमकुर मठ का दौरा करेंगे. यहां वे सिद्धगंगा मठ के 111 वर्षीय शिवकुमार स्वामी से मुलाकात करेंगे. इसके अलावा राहुल गांधी आज चित्रदुर्ग जिले का दौरा करेंगे. ये जिला लिंगायत समुदाय का गढ़ माना जाता है. आपको बता दें कि राहुल जिन स्वामी से आज मुलाकात करेंगे उन्होंने लिंगायत समुदाय को अलग धर्म का दर्जा देने के फैसले का स्वागत किया था.

आज का राहुल का दौरा –

–  देवानगरे में कर्मचारियों से मुलाकात.

– देवानगरे में ट्रेडर्स से मुलाकात.

– चित्रदुर्ग में रैली

– सिद्धगंगा मठ का दौरा.

– टुमकुर में कार्यक्रम.

– रामनगर में रैली.

क्या कहा अमित शाह ने?

मंगलवार को अपने कर्नाटक दौरे के दौरान BJP अध्यक्ष अमित शाह ने महंतों के सामने बड़ा ऐलान किया था. उन्होंने लिंगायत और वीरशैव लिंगायत को धार्मिक अल्‍पसंख्‍यकों का दर्जा देने के कदम को हिंदुओं को बांटने वाला बताया था. शाह ने कहा कि मैं ये भरोसा दिलाता हूं कि इसे बंटने नहीं दिया जाएगा. जब तक बीजेपी है कोई बंटवारा नहीं होगा. हम इसको लेकर प्रतिबद्ध हैं. अमित शाह ने वीरशैव लिंगायत के महंतों से कहा, ‘लिंगायत समुदाय को धार्मिक अल्पसंख्यक का दर्जा देने की राज्‍य सरकार की सिफारिश को केंद्र सरकार नहीं मानेगी.’  

12 मई को वोटिंग, 15 को गिनती

आपको बता दें कि 225 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा के लिए 224 सीटों पर एक ही चरण में मतदान होगा. 1 सीट पर एंग्लो-इंडियन समुदाय के सदस्य को मनोनीत किया जाता है. कर्नाटक में 12 मई को वोट डाले जाएंगे और 15 मई को वोटों की गिनती होगी. चुनाव आयोग के मुताबिक 17 अप्रैल से 24 अप्रैल तक नामांकन भरे जाएंगे. इसके बाद 25 अप्रैल को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी, जिसके बाद 27 अप्रैल तक उम्मीदवार अपना नाम वापस ले सकेंगे.

You May Also Like

English News