कश्मीर के पत्थरबाजों से निपटने के लिए विहिप-बजरंग दल ने बनाया नया एक्शन प्लान…

विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) और बजरंग दल ने कश्मीर में सुरक्षा बलों पर पथराव की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि अगर पत्थरबाज बाज नहीं आए तो समुदाय विशेष के लोगों को पूरे देश में हिन्दू समाज का विरोध झेलना पड़ेगा। विहिप के जिला महामंत्री रवींद्र गोयल और बजरंग दल के विभाग संयोजक कपिल वत्स ने उनकी अध्यक्षता में दोनों संगठनों के कार्यकर्ताओं की बैठक में कहा कि जम्मू-कश्मीर में समुदाय विशेष के लोग जवानों पर पत्थरों से कायराना हमले कर रहे हैं जो कि असहनीय है। उन्होंने कहा ”हमें अपने जवान उतने ही प्यारे हैं जितना कि वहां के लोगों को उनका धर्म। इसलिए पत्थरबाज तुरंत अपनी हरकतें बंद करें नहीं तो समुदाय विशेष के लोगों को पूरे देश में हिन्दू समाज का विरोध झेलना पड़ेगा।

यह भी पढ़े- GOOD NEWS: 66 हजार शिक्षकों को सुप्रीम कोर्ट से राहत, 6 हजार भर्तियां और होंगी

हिन्दू नेताओं ने कहा कि आपात स्थिति में तो कश्मीर के लोग सेना के जवानों के आगे हाथ फैलाने लग जाते हैं और आज वे उन्हीं सैनिकों को अपमानित कर रहे हैं । यह उनकी घटिया मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि पत्थरबाज इस बात को भूल रहे हैं कि यदि सेना के जवानों को खुली छूट दे दी गई तो सम्भवत: एक भी पत्थरबाज वहां ढूंढने से नहीं मिलेगा। 

गोयल और वत्स ने कहा कि जवानों पर पत्थर फेेंकने वाले और पड़ोसी देश का झंड़ा लहराने और उसके पक्ष में नारे लगाने वाले जिस थाली में खा रहे हैं उसी में छेद कर रहे हैं। ऐसे गद्दारों से निबटने के लिये और इन्हें सबक सिखाने के लिए सरकार को कड़े कदम उठाने चाहिए और सुरक्षा बलों को इन पर कार्रवाई की खुली छूट देनी चाहिए। 

बैठक में छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए नक्सली हमले की भी निंदा की गई तथा शहीद जवानों के सम्मान में दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई।

यह भी पढ़े- अभी अभी: मायावती ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा-तत्काल करे नहीं तो…

You May Also Like

English News