कष्ट निवारण के लिए करें हनुमानजी के इन मंत्रो का जाप!

हनुमान जयंती के दिन हनुमानजी की उपासना व चोला चढ़ाने से शुभ ऊर्जा-शक्ति मिलती है. जिनके कष्टों का अंत ना हो रहा हो वे बजरंगबली को तेल-सिंदूर का चोला अवश्य चढ़ाएं.

-दरिद्रता दूर करने के लिए प्रति मंगलवार चना-चिरौंजी चढ़ाएं.

-सौभाग्य, पुत्र कामना के लिए सिंदूर एवं चमेली का तेल चढ़ाएं.

-कष्ट दूर करने गुड़ और मूंग चढ़ाएं.

-सुखों की वृद्धि के लिए हनुमानजी को ॐ हनुमते नमः की माला जपें.

-पराक्रम वृद्धि के लिए हनुमानजी की गदा में सिंदूर व गाय का घी लगाकर लगाएं.

-अपने परिवार की उन्नति के लिए चमेली के पुष्प चढ़ाएं.

-संपत्ति के लिए गुड़, चना चढ़ाएं और घी के दीपक जलाएं.

-कष्टों से निवारण हेतु हनुमानजी को सिंदूर, नारियल और लड्डू अर्पण करें.

-जमीन, जायदाद के कार्यों की सफलता के लिए हनुमान चालीसा के 11 पाठ प्रतिदिन करें. लड्डू, नारियल का भोग लगाएं.

-सुखों में वृद्धि व कोर्ट कचहरी के मामले से निपटने के लिए तेल का दान करें.

-रूके हुए कार्यों में सफलता के लिए घी और सिंदूर का चोला और पीपल के पत्तों की माला राम नाम लिखकर चढ़ाएं.

-समस्त कार्य, मान-सम्मान की प्राप्ति के लिए हनुमानजी को केशर के जल से स्नान कराएं.

You May Also Like

English News