कांग्रेस अपने विधायक खुद संभाले: कुमारस्वामी

कर्नाटक चुनाव में जेडीएस के मुख्यमंत्री के लिए बुधवार को कुमारस्वामी शपथ लेंगे. शपथ के पहले ही जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन से बनी कर्नाटक की सरकार के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी कल सोमवार को दिल्ली रवाना होंगे जहाँ वो कांग्रेस की सुप्रीमो सोनिया गाँधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी से मिलेंगे. कर्नाटक चुनाव में जेडीएस के मुख्यमंत्री के लिए बुधवार को कुमारस्वामी शपथ लेंगे. शपथ के पहले ही जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन से बनी कर्नाटक की सरकार के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी कल सोमवार को दिल्ली रवाना होंगे जहाँ वो कांग्रेस की सुप्रीमो सोनिया गाँधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी से मिलेंगे.   इसके साथ ही कुमारस्वामी ने हाल ही में गठबंधन (कांग्रेस+जेडीएस) को लेकर कहा कि कांग्रेस अपने विधायक खुद संभाले वहीं जेडीएस के विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी हमारी है. इस बारे में बात करते हुए कुमारस्वामी ने कर्नाटक की जनता का भी शुक्रिया किया है. बता दें, कुमारस्वामी दूसरी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री बनेंगे.   एक सवाल के जवाब में कुमारस्वामी ने कहा कि जो नेता कर्नाटक में चुनाव से पहले जेडीएस को छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे और वो अब चुनाव जीतकर आए हैं. ऐसे विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी अब कांग्रेस की है. भले ही वो विधायक सरकार का हिस्सा होंगे, लेकिन उनकी पूरी जिम्मेदारी कांग्रेस पर होगी. ऐसे में इन विधायकों के कदम से जेडीएस को कोई लेना-देना नहीं है. कुमारस्वामी शपथ के बाद ही राज्यपाल के सामने सदन में अपना बहुमत पेश करेंगे.

इसके साथ ही कुमारस्वामी ने हाल ही में गठबंधन (कांग्रेस+जेडीएस) को लेकर कहा कि कांग्रेस अपने विधायक खुद संभाले वहीं जेडीएस के विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी हमारी है. इस बारे में बात करते हुए कुमारस्वामी ने कर्नाटक की जनता का भी शुक्रिया किया है. बता दें, कुमारस्वामी दूसरी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री बनेंगे. 

एक सवाल के जवाब में कुमारस्वामी ने कहा कि जो नेता कर्नाटक में चुनाव से पहले जेडीएस को छोड़कर कांग्रेस में चले गए थे और वो अब चुनाव जीतकर आए हैं. ऐसे विधायकों को संभालने की जिम्मेदारी अब कांग्रेस की है. भले ही वो विधायक सरकार का हिस्सा होंगे, लेकिन उनकी पूरी जिम्मेदारी कांग्रेस पर होगी. ऐसे में इन विधायकों के कदम से जेडीएस को कोई लेना-देना नहीं है. कुमारस्वामी शपथ के बाद ही राज्यपाल के सामने सदन में अपना बहुमत पेश करेंगे. 

You May Also Like

English News