Big Breaking: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम के बेटे को सीबीआई ने किया गिरफ्तार, जानिए क्योंं?

चेन्नई: पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम को सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया है। आईएनएस मीडिया केस में घिरे कार्ति को चेन्नई एयरपोर्ट से हिरासत में लिया गया है। सीबीआई की टीम कार्ति को पूछताछ के लिए दिल्ली ला रही है।


कार्ति के सीए पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं और सीबीआई उनसे पूछताछ कर रही है। दरअसल आईएनएक्स मीडिया मनी लांड्रिंग मामले में पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं।

दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने सोमवार को कार्ति चिदंबरम के चाटर्ड अकाउंटेंट एस भास्करन को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा दिया। बताते चलें कि कार्ति चिदंबरम के अकाउंटेंट को 16 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें पांच दिनों की प्रवर्तन निदेशालय यानि ईडी की कस्टडी में भेजा दिया।

गौरतलब है कि आईएनएक्स मनी लॉन्ड्रिंग मामले की सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट कार्ति चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका पर 6 मार्च को सुनवाई करने के लिए सहमत हो गया। गौरतलब है कि सीबीआई ने इस मामले में आईएनएक्स मीडिया और इसके निदेशकों इंद्राणी और पीटर मुखर्जी, कार्ति चिदंबरम और उनकी कंपनी चेस मैनेजमेंट सर्विस और पद्मा विश्वनाथन और उनकी कंपनी एडवांटेज स्ट्रेटजिक कंस्लटिंग के खिलाफ केस दर्ज किए हैं।

इन पर आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, भ्रष्ट तरीके अपनाने, लोकसेवकों को प्रभावित करने और आपराधिक दुराचरण का आरोप लगाया है।

2007 में वित्त मंत्री पी चिदंबरम के कार्यकाल में आईएनएक्स मीडिया को विदेश से 305 करोड़ रुपये स्वीकार करने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की ओर से दी गई मंजूरी में कथित अनियमितताओं का आरोप लगाया गया था। इस मामले में कार्ति चिदंबरम के खिलाफ ईडी और सीबीआई दोनों जांच एजेंसियां पूछताछ कर रही हैं। कार्ति पर प्रमुख आरोप ये है कि पिता के वित्तमंत्री रहते हुए उन्होंने इसका फायदा उठाकर कई कंपनियों को अनुचित लाभ पहुंचाया। उन्हीं में से एक मामला आईएनएक्स मीडिया का भी हैए जिसकी सर्वेसवा बेटी की हत्या के आरोप में जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी रह चुकी हैं।

You May Also Like

English News