‘कांग्रेस ने 70 साल लोकतंत्र बचाया, चाय वाले को पीएम बनाया’

पीएम मोदी खुद को कई मौके पर चायवाला कह चुके ही. अब इस चायवाला शब्द पर कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्लिकाकार्जुन खड़गे ने कहा कि कोई चायवाला देश का प्रधानमंत्री बन सका ये कांग्रेस पार्टी की देन है. महाराष्ट्र कांग्रेस मामलों के प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘एक चायवाला देश का प्रधानमंत्री इसलिए बन सका, क्योंकि कांग्रेस ने लोकतंत्र को संरक्षित रखा. प्रधानमंत्री हर कार्यक्रम में पूछ रहे हैं कि कि कांग्रेस ने पिछले 70 साल में क्या किया? देश में उनके जैसा कोई चायवाला देश का प्रधानमंत्री इसलिए बन सका, क्योंकि हमने लोकतंत्र में सभी को एक समान अधिकार दिए.’पीएम मोदी खुद को कई मौके पर चायवाला कह चुके ही. अब इस चायवाला शब्द पर कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्लिकाकार्जुन खड़गे ने कहा कि कोई चायवाला देश का प्रधानमंत्री बन सका ये कांग्रेस पार्टी की देन है. महाराष्ट्र कांग्रेस मामलों के प्रभारी मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, 'एक चायवाला देश का प्रधानमंत्री इसलिए बन सका, क्योंकि कांग्रेस ने लोकतंत्र को संरक्षित रखा. प्रधानमंत्री हर कार्यक्रम में पूछ रहे हैं कि कि कांग्रेस ने पिछले 70 साल में क्या किया? देश में उनके जैसा कोई चायवाला देश का प्रधानमंत्री इसलिए बन सका, क्योंकि हमने लोकतंत्र में सभी को एक समान अधिकार दिए.'   कांग्रेस का बचाव करते हुए खड़गे ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी आपातकाल की बात करते हैं, जो 43 पहले हुआ. लेकिन पिछले चार साल के अघोषित आपातकाल का क्या? किसान आत्महत्या कर रहे हैं, कृषि योजनाएं फेल हो रही हैं और व्यापार में लगातार गिरावट हो रही है.'    गौरतलब है कि रणदीप सुरजेवाल ने पिछले दिनों एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान कहा था कि भाजपा बार-बार इस मुद्दे को उठा रही है, जबकि कांग्रेसी नेताओं ने उस दौरान हुई ज्‍यादतियों पर कई बार खेद व्‍यक्ति किया है. कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्लिकाकार्जुन खड़गे ने एक बार फिर चायवाला सियासत को हवा दे दी है जिस पर बीजेपी की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

कांग्रेस का बचाव करते हुए खड़गे ने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी आपातकाल की बात करते हैं, जो 43 पहले हुआ. लेकिन पिछले चार साल के अघोषित आपातकाल का क्या? किसान आत्महत्या कर रहे हैं, कृषि योजनाएं फेल हो रही हैं और व्यापार में लगातार गिरावट हो रही है.’

गौरतलब है कि रणदीप सुरजेवाल ने पिछले दिनों एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान कहा था कि भाजपा बार-बार इस मुद्दे को उठा रही है, जबकि कांग्रेसी नेताओं ने उस दौरान हुई ज्‍यादतियों पर कई बार खेद व्‍यक्ति किया है. कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्लिकाकार्जुन खड़गे ने एक बार फिर चायवाला सियासत को हवा दे दी है जिस पर बीजेपी की ओर से अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है. 

You May Also Like

English News