कांग्रेस ने PM मोदी की यात्राओं पर फोड़ा बम, पूछा- यात्रा का किसने और क्यों किया भुगतान?

भाजपा डाल-डाल तो कांग्रेस पात-पात चल रही है। पार्टी ने राबर्ट वाड्रा और हथियारों के सौदागर संजय भंडारी के बीच संबंधों को लेकर कुछ समाचार चैनल पर प्रसारित खबर तथा इसे लेकर भाजपा नेताओं की प्रतिक्रिया के जवाब में सीधे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला बोला है। 
पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नैतिकता पर सीधे सवाल उठाया है। पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने संजय भंडारी और रावर्ट बाड्रा कनेक्शन पर सफाई देते हुए प्रधानमंत्री और भाजपा नेताओं से सवाल पूछे हैं। कांग्रेस ने PM मोदी की यात्राओं पर फोड़ा बम, पूछा- यात्रा का किसने और क्यों किया भुगतान?बड़ी खबर: आज के दिन रात 10 बजे तक ही चलेगी मेट्रो, DTC ने द‌िया बहनों को तोहफा
अभिषेक मनु सिंघवी ने सूचना के अधिकार के तहत प्राप्त जानकारी के आधार पर प्रधानमंत्री की 2003-2007 में गुजरात का मुख्यमंत्री रहने के दौरान की गई करीब 100 हवाई यात्रा का ब्यौरा देते हुए सवाल उठाया है। 

गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री मोदी ने यह यात्राएं चाटर्ड प्लेन से की है। इनमें से चार विदेश यात्राओं का भी जिक्र है। सिंघवी के अनुसार रेन एयर सर्विस, ओरिएंट फ्लाइंग स्कूल, वीडियोकॉन, सेंचुरी, आडानी और रिलायंस के निजी विमान से यह यात्राएं हुई हैं।  

कांग्रेस का पहला सवाल है कि प्रधानमंत्री और गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री उस समय संवैधानिक पद पर थे। ऐसे में यह एक बड़ा सवाल है कि उनके इस घरेलू और विदेशी चाटर्ड हवाई यात्रा का भुगतान किसने और क्यों किया? क्या मुख्यमंत्री मोदी जी को यह यात्राएं उपहार (गिफ्ट) में थी? मुख्यमंत्री एक भी यदि एक भी पैसा लेता है तो वह गिफ्ट में आता है। इसका कही उल्लेख नहीं है? ऐसे में यह भी एक बड़ा सवाल है कि किस अधिकार से तत्कालीन मुख्यमंत्री ने यह गिफ्ट लिया? इसका पूरा ब्योरा क्या है? 

विदेश यात्रा पर भी सवाल

आरटीआई से प्राप्त जानकारी के आधार पर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2006-07 के दौरान चार विदेश यात्रा भी चार्टर्ड हवाई जहाज से की। यह यात्रा स्विट्जरलैंड, कोरिया,जापान और चीन की हुई। इसमें प्रमुख उद्योगपति भी साथ गए। 

साथ जाने वाले उद्योगपतियों में टोरंट के मालिक सुधीर मेहता, परिमल नाथानी, पंकज पटेल, प्रसाद मेनन (टाटा), हरिहरण (आईएलएफएस), निखिल मेसवानी (रिलायंस), राजीव ज्योति, गौतम आडाणी, परेश दवे, एचके पटेल, बीके गोयनका आदि शामिल हैं। 

अभिषेक सिंघवी के अनुसार इन यात्राओं को लेकर केन्द्रीय गृह मंत्रालय और वित्त मंत्रालय की अनुमति ली जानी चाहिए। जहां तक मेरी जानकारी है कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। इन विदेश यात्राओं के दौरे पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से सवाल पूछा है। 

 

You May Also Like

English News