कानपुर ट्रेन हादसे की वजह, संसद में बताएंगे प्रभु

यूपी में रविवार को कानपुर से लगभग 60 किलोमीटर दूर पुखरायां में इंदौर से पटना जा रही दुर्घटनाग्रस्त हुई इंदौर-पटना एक्सप्रेस में अब तक मृतकों की संख्या 133 हो गई है।11Fir32-33.qxp

 
कानपुर के एसपी ने ये जानकारी दी. जबकि करीब 60 गंभीर रूप से घायल हैं और 150 लोगों को हल्की चोटें आई हैं. पटरी में दरार की आशंका के चलते ट्रेन के उतरने की आशंका जताई जा रही है।
 
हादसे के बाद कुछ कोच पूरी तरह मलबे में तब्दील हो गए हैं. घटनास्थल पर मौजूद सेना और एनडीआरएफ की टीमें राहत और बचाव कार्य में लगी हैं। फिलहाल प्रधानमंत्री राहत कोष, रेलवे, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सरकारों ने मृतकों और घायलों के लिए मुआवजे की घोषणा की है। रेल हादसे के पीड़ितों को लेकर एक स्पेशल ट्रेन पटना पहुंच गई है. ये विशेष ट्रेन सोमवार तड़के पटना पहुंची।
 
 उत्तर प्रदेश के पुखरायां में हुए रेल हादसे को अभी एक दिन ही हुआ है कि झांसी से एक मालगांड़ी के पटरी से उतरने की खबर आ गई. बताया जा रहा है कि सोमवार तड़के एक मालगाड़ी के दो डिब्बे पटरी से उतर गए।

You May Also Like

English News